S&P ने सुधारी भारत की रेटिंग, रुपया हुआ मजबूत

S&P ने सुधारी भारत की रेटिंग, रुपया हुआ मजबूत
stardard and poor
ग्लोबल एजेंसी S&P ने भारत की रेटिंग बढ़ा दी है। भारत की क्रेडिट आउटलुक को बढ़ाकर निगेटिव से स्टेबल किया है। साथ ही पावर ग्रिड, NTPC, रिलायंस, ONGC, TCS की रेटिंग में भी सुधार किया गया है। फिलहाल रेटिंग BBB- थी।
 क्यों बढ़ाई रेटिंग
  • मजबूत सरकार के बाद भारत की रिफॉर्म स्टोरी पर भरोसा बढ़ा।
  • विदेशों में भारत की स्थिति काफी मजबूत हुई।
  • नई राजनीति‍क रि‍फॉर्म के कारण ग्रोथ को मजबूती मि‍लने की उम्‍मीद।
  • गोल्‍ड के इंपोर्ट पर रोक लगाने की वजह से भारत का सीएडी सुधरा।
क्या  कहा एसएंडपी ने
  • मार्च 2018 तक भारत की नेट पब्लिक डेट जीडीपी का 60 फीसदी रहने का अनुमान।
  • वित्त  वर्ष 2018 तक भारत सरकार डेट सर्विसिंग रेवेन्यू  का 20 फीसदी होने का अनुमान।
  • अगले साल तक भारत की रियल पर कैपिटा जीडीपी ग्रोथ पांच फीसदी होने का अनुमान।
रेटिंग बढ़ने पर क्या होगा भारत पर असर
बाजार के फंडामेंटल एनालिस्ट विवेक मित्तल के अनुसार रेटिंग बढ़ने पर देश की अर्थव्यवस्था के साथ कंपनियों के फंडामेंटल में भी बदलाव आ जाएगा, और कई सेक्टर्स की री-रेटिंग हो सकती है। देश को आसानी से कर्ज मिल पाएगा।
  • भारत का व्यापार घाटा कम हो जाएगा।
  • भारत में विदेशी निवेश बढ़ जाएगा।
  • विस्तार कर रही कंपनियों को भी कर्ज जुटाने में आसानी होगी।
रेटिंग सुधरने का बाजार ने किया स्वागत 
  • डॉलर के मुकाबले रुपया निचले स्तर से जबरदस्त रिकवर हुआ।
  • रुपए में 50 पैसे की मजबूती देखी गई। 61.62 के मुकाबले रुपया अब 61 के नीचे कारोबार कर रहा है।
  • शेयर बाजार में भी जबरदस्त उछाल देखने को मिला।
  • डिफेंसिव सेक्टर्स को छोड़ सभी सेक्टर इंडेक्स में जोरदार तेजी है।
  • बैंकिंग, मेटल, कंस्ट्रक्शन इंडेक्स करीब 2.5 फीसदी ऊपर है। वहीं रियल एस्टेट इंडेक्स
    में भी निचले स्तरों से 2 फीसदी का उछाल आया है।
S&P के कदम पर वित्त  सचिव का बयान 
भारत के वित्त सचिव अरविंद मायाराम ने कहा है कि हमें पूरा भरोसा है कि वित्तर वर्ष 2014-15 में विकास दर 5.5 फीसदी से ज्यािदा रहेगी। उन्होंमने कहा कि सरकार कई रिफॉर्म अभी और करेगी। उन्हों ने कहा कि आगे अर्थव्य4वस्थाो में हमें और सकारात्मफक सुधार देखने को मिलेंगे। एसएंडपी ने कहा है कि यदि भारत की विकास में सुधार होता है तो इसकी रेटिंग में और सुधार हो सकता है।

You must be logged in to post a comment Login