संसद में उठी आवाज सरिता के हक के लिए

संसद में उठी आवाज सरिता के हक के लिए

sarita

भारतीय महिला मुक्केबाज एल. सरिता देवी को अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी महासंघ के आजीवन प्रतिबंध से बचाने के लिए संसद में मुद्दा उठा। सदन में कांग्रेस के सांसद रंजीत रंजन ने यह मांग की कि इंचियोन एशियन गेम्स 2014 में रैफरी के निर्णय के विरोध में कांस्य पदक स्वीकार करने से इनकार कर दिया था।

शून्य काल के दौरान यह मुद्दा उठाते हुए रंजन ने कहा कि सरिता देवी के साथ जो हुआ वह किसी और खिलाड़ी के साथ नहीं होना चाहिए, क्योंकि  खेलों के दौरान उन्हें वह नहीं मिला जिसकी वह हकदार थी। रंजीत ने कहा कि सितंबर में महिला लाइटवेट (60 किग्रा) वर्ग के सेमीफाइनल मुकाबले के दौरान अगर सब कुछ सही रहता तो सरिता देवी स्वर्ण पदक जीत सकती थी। रंजीत चाहते हैं कि सरकार तुरंत हस्तक्षेप करे जिससे कि इस मुक्केबाज को आजीवन प्रतिबंध से बचाया जा सके।

You must be logged in to post a comment Login