दो किसानों की मौत के बाद सुर्खियों में आया पिठोरिया क्षेत्र

दो किसानों की मौत के बाद सुर्खियों में आया पिठोरिया क्षेत्र

झारखंड में रघुवर सरकार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। गत एक सप्ताह के भीतर दो किसानों की मौत के बाद सुर्खियों में आए राजधानी रांची का पिठोरिया क्षेत्र आमिर खान द्वारा निर्मित पीपली लाइव बन गया है। दो किसानों की मौत की घटना के बाद ये इलाका राजनीतिक दलों और मीडिया के लिए मनोरंजन का केंद्र बन गया है। मीडियाकर्मी अपनी खबरों को लेकर पिठोरिया का दौरा कर रहे हैं जबकि राजनीतिक प्रतिनिधि अपनी उपस्थिति को लेकर बार-बार वहां का चक्कर लगा रहे हैं।

राज्य में दो विपक्षी दल झामुमो और झाविमो के प्रमुख हेमंत सोरेन और बाबूलाल मरांडी इन इलाकों का हफ्ते में कई बार चक्कर लगा चुके हैं। इस दौड़ में राज्य में लगभग हाशिये पर चल रही कांग्रेस के नेता भी पीछे नहीं हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय वहां का दौरा कर चुके हैं।

राज्य में भाजपानीत रघुवर सरकार के तीन वर्ष पूरे हो चुके हैं, इससे पूर्व राज्य में सोरेन और मरांडी ही राज कर रहे थे। वही कांग्रेस नेता सहाय के दल के समर्थन से राज्य में एक मात्र विधायक वाले मधु कोड़ा की सरकार दो साल से अधिक समय तक रही। इसके बावजूद राजधानी से महज 15 किलोमीटर दूर पर अवस्थित पिठोरिया सिंचाई को लेकर पिछड़ा है।राज्य के ग्रामीणों के अनुसार राज्य में जब से भाजपा की स्थाई सरकार आयी है, राज्य में कुछ विकास दिखता है। लेकिन उनका कहना है कि अगर पूर्ववर्ती सरकार के कार्यकाल से ही यहां पीने का पानी और सिंचाई के क्षेत्र में काम होता तो आज यह नौबत नहीं आती है। ऐसे में किसान क्या करें, कोई सुनता तक नहीं है। ऐसी घटना होती है तो नेता आते हैं और केवल कोरे आश्वासन देकर चले जाते हैं। फिलहाल दोनों परिवारों से मिलने वाले लोग ढांढस बंधा रहे हैं। थोड़ी बहुत मदद व्यक्तिगत रूप से कुछ राजनेताओं ने की है, लेकिन सरकार की तरफ से इन मौतों की जांच अब भी जारी है।

अन्य खबरों के लिए पढ़ेंNational | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login