जलाभिषेक के लिए देवालयों में उमड़े श्रद्धालु सावन के दूसरे सोमवार को

जलाभिषेक के लिए देवालयों में उमड़े श्रद्धालु सावन के दूसरे सोमवार को

सावन के दूसरे सोमवार को जलाभिषेक के लिए देवालयों में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। जलाभिषेक के लिए श्रद्धालु देर रात से ही कतार में लग गए। सावन का पूरा महीना शिव पूजा और आराधना के लिए विशेष होता है।

इस साल सावन महीने में पांच सोमवार पड़ रहे है। सावन का महीना 10 जुलाई को शुरू हुआ था। तीसरा सोमवार 24 जुलाई को, चौथा सोमवार 31 जुलाई को और पांचवां सोमवार 7 अगस्त को पड़ेगा।

बाबानगरी देवघर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। देर रात से ही श्रद्धालु जल चढ़ाने के लिए कतारबद्ध हो गए। पहली सोमवार को एक लाख कांवरियों ने जलार्पण किया था, इस सोमवार को इससे भी अधिक कांवरियों के जलाभिषेक की संभावना है। प्रशासन सजग है। सुरक्षा बल के साथ मेला के चप्पे चप्पे पर सीसीटीवी कैमरों से निगरानी हो रही है।

कांवरिया पथ के प्रत्येक प्वाइंट के अलावा 23 थानों, पुलिस आवासन शिविरों, प्रशासनिक व स्वास्थ्य शिविरों, नियंत्रण कक्ष की गतिविधियां लाइव रहेगी। पल-पल सूचना का आदान-प्रदान होगा। यह मेला को नियंत्रण करने एवं सुविधाओं को बरकरार रखने के साथ-साथ विधि व्यवस्था को कंट्रोल करने में मददगार साबित होगा। सूचना तंत्र को पहले से भी ज्यादा विकसित करने की तैयारी इस साल की गई है। कांवरिया पथ दुम्मा से लेकर शिवगंगा तट।

शिवगंगा में डुबकी लगाकर पूजा-अर्चना को कतार में जाने वाले रुटलाइन में नेहरू पार्क, बीएड कॉलेज, नंदन पहाड़, बरमसिया चौक, परमेश्वर दयाल रोड, सर्कुलर रोड होते बेला बगान से अंतिम प्वाइंट कुमैठा तक 239 सीसीटीवी कैमरों से मेला क्षेत्र को नियंत्रित किया जा रहा है। भीड़ के घटने-बढ़ने, कतार की गति व हर टर्निंग प्वाइंट पर अतिरिक्त कैमरे लगाए जा रहे हैं ताकि मोबाइल से भी इसे नियंत्रित किया जा सके।

आला अधिकारियों के मोबाइल पर मेला क्षेत्र के प्रमुख प्वाइंट का लाइव डिसप्ले दिखेगा। किसी प्रकार की कमी देखते ही वहां प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट व पुलिस पदाधिकारी को जानकारी दी जाएगी।

अन्य खबरों के लिए पढ़ें :

National | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login