चीन की दीवार पर भारतीयों, चीनियों ने किया योगाभ्यास

चीन की दीवार पर भारतीयों, चीनियों ने किया योगाभ्यास

#अंतर्राष्ट्रीय_योग_दिवस के मौके पर लगभग 150 लोगों ने चीन की महान दीवार पर योग की विभिन्न मुद्राओं का अभ्यास किया।

चीन की महान दीवार पर लाल टी-शर्ट पहने युवाओं को योग की कठिन मुद्राओं का अभ्यास करते देखना बेहद अद्भुत था।

साल 2014 में संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस घोषित किया था।

भारत के विदेश राज्य मंत्री वी.के.सिंह ने भी कार्यक्रम में हिस्सा लिया। सिंह ब्रिक्स देशों के विदेश मंत्रियों के सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए बीजिंग में हैं, जो सोमवार को समाप्त हुआ।

एक युवती वांग केन (30) ने आईएएनएस से कहा, “योग से मुझे खुशी मिलती है।” उन्होंने कहा कि योग प्रशिक्षक बनने के लिए उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ दी। उनका सपना भारत का दौरा करना है, जो योग भूमि है।

कार्यक्रम के आयोजन में बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास की चाइनीज पीपुल्स एसोसिएशन फॉर फ्रेंडशिप विद् फॉरेन कंट्रीज (सीपीएएफएफसी) तथा बेहद मशहूर योगी योग स्कूल ने मदद की।

योगी योग के संस्थापक मोहन सिंह भंडारी ने आईएएनएस से कहा, “चीन के लोग दिन-ब-दिन समृद्ध हो रहे हैं, लेकिन उनके मानसिक तनाव का स्तर बढ़ता जा रहा है। और यही कारण है कि वे योग की शरण में आ रहे हैं।”

भंडारी चीन में साल 2003 से ही योग का प्रशिक्षण दे रहे हैं।

भारत सरकार ने कार्यक्रम के लिए 20 योग प्रशिक्षकों को योग राजदूत के रूप में चीन भेजा था।

पिछले कई वर्षो से चीन में योग को भारी प्रसिद्धि मिल रही है।

चीन में योग संस्थानों की संख्या बढ़ रही है। बीजिंग में ऐसे 1,000 संस्थान हैं।

अन्य खबरों के लिए पढ़ेंNational | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login