कालेधन की सूची में भारत तीसरे नंबर पर

कालेधन की सूची में भारत तीसरे नंबर पर

Black Moneyदुनिया में भारत ऎसा तीसरा देश है, जिसके यहां बेशुमार कालाधन है। इस मामले में भारत का पूरे विश्व में तीसरा नम्बर है। अन्तरराष्ट्रीय थिंक टैंक द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार भारत ने वर्ष 2003 से वर्ष 2012 तक 539.59 बिलियन डॉलर (32 लाख करोड) का कालाधन देश से बाहर भेजा है। थिंक टैंक की यह रिपोर्ट वर्ष 2012 के आंकडों पर आधारित है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, रूस कुल 973.86 बिलियन डॉलर के कालेधन के साथ पहले स्थान पर है जबकि चीन दूसरे स्थान पर और भारत तीसरे स्थान पर है।  भारतीयों ने केवल वर्ष 2012 में ही 94.76 बिलियन डॉलर (6 लाख करोड) का कालाधन बाहर भेजा। वाशिंगटन आधारित रिसर्च ग्रुप के अनुसार दुनिया में मौजूद कालेधन (6.6 ट्रिलियन डॉलर) का दसवां हिस्सा भारतीयों द्वारा जमा किया गया है। यह पैसा अपराध, भ्रष्टाचार और टैक्स चोरी द्वारा जमा किया गया है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कालेधन की समस्या को सुलझाने के लिए एसआईटी का गठन किया था जिसने 14,958 करोड के काले धन की जांच के लिए कार्यवाही शुरू कर दी है। रिपोर्ट के अनुसार पिछले एक दशक में जमा कुल काले धन के मामले में भारत का चौथा स्थान है, भारत से आगे केवल चीन (1.25 ट्रिलियन डॉलर), रूस (973.86 बिलियन डॉलर) तथा मैक्सिको (514.26 बिलियन डॉलर) है।

You must be logged in to post a comment Login