एकतरफा प्यार में लड़की का गला रेता, तातारपुर में दिया घटना को अंजाम

एकतरफा प्यार में लड़की का गला रेता, तातारपुर में दिया घटना को अंजाम

भागलपुर : एकतरफा प्यार में एक सनकी प्रेमी ने नबालिग लड़की का गला आरी पत्ति से रेत दिया।घटना बुधवार की सुबह 9 बजे के करीब की बतायी जा रही है।

तातारपुर थाना क्षेत्र के लहेरिटोला के महालक्षमी प्लेस गली के रहनेवाले त्रिभुवन झा की पीड़ित नाबालिग बेटी का इलाज मायागंज अस्पताल चल रहा है।

अस्पताल में भर्ती पीड़ित लड़की सोनी ने बताया की वह आज सुबह अपने घर से निकलकर लहेरिटोला से तातारपुर की ओर जानेवाली एस बी आई गली में आरोपी लड़के दिलीप कुमार ने उसे पीछे से पकड़कर मुँह दाब दिया और आरी से तिन चार बार उसके गले को रेत दिया और मौके से भाग गया।खून से लतपथ लड़की अपने गले को दबाये हुए घर पहुंची जहां उसकी छोटी बहन सात वर्षीया मोनी ने उसकी हालत को देखकर घटना की सूचना अपने पिता को उनके काम पर जाकर दी।उसके पिता बाटा गली में स्थित सिट स्टार कपड़े की दुकान में काम करते हैं।घटना की सूचना मिलते ही पिता घर पहुंचे और गम्भीर स्थिति घर में घायल पड़ी सोनी को लेकर तातारपुर थाना पहुंचे और घटना को लेकर आरोपित के खिलाफ शिकायत की।पुलिस ने घायल लड़की को लेकर इलाज हेतु सदर अस्पताल में भर्ती कराया,जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया।जहां उसका इलाज चल रहा है।पीड़ित लड़की ने बताया की उसकी माँ की मौत बिगत सात वर्ष पहले हुई है।तब से वह दोनों बहन अपने पिता के साथ रहती है।उसके पिता कपड़े की दुकान में काम करते हैं।और वह दोनों बहन घर पर अकेली हीं रहती है।उसने बताया की आरोपी लड़का दिलीप पिछले एक साल से उसका पीछा कर रहा है।दिलीप अक्सर उसका रास्ता रोककर उससे शादी करने का दबाब बना रहा है।आरोपी दिलीप पीड़ित लड़की से कहता है अगर तुम मुझसे शादी नहीं करोगी तो तुम्हारी जान ले लूँगा।उसने बताया की दिलीप उसके घर के पास गांजा पीकर हल्ला करता है और उसका नाम पुकारकर उसे चिल्लाता है।कई बार तो वह उसके घर में घुसने का भी कोशिश किया।मगर लड़की ने उसके डर से घर का दरवाजा अंदर से बंद कर लेती थी।पीड़िता ने बताया की दिलीप कई बार उसका रास्ता रोककर उससे उसका मोबाइल नम्बर मांगता था।उसने बताया पिछले एक माह पहले भी आरोपी ने उसका रास्ता रोककर उससे मोबाइल नम्बर माँगा और छेड़खानी किया।जिसकी शिकायत तातारपुर थाने में की गयी तो पुलिस ने आरोपी लड़के को पकड़कर थाने ले गयी और उसे समझा बुझाकर छोड़ दिया गया।तभी से आरोपी लड़के ने उसे और तंग करने लगा।पीड़िता ने बताया की आरोपी लड़के के डर से वह अपनी पढ़ाई तक भी छोड़ दी है।वह मारवाड़ी कन्या पाठशाला में 5वीं की छात्रा थी।6ठी क्लास में जाते ही वह लड़के के छेड़खानी से तंग आकर वह पढ़ाई छोड़ कर घर पर हीं पढ़ाई करने लगी।

अन्य खबरों के लिए पढ़ेंNational | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login