हाजिर हुए लालू चारा घोटाले के चार मामलों, दो में गवाही

हाजिर हुए लालू चारा घोटाले के चार मामलों, दो में गवाही

चारा घोटाले के चार मामलों में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने शुक्रवार को सीबीआइ के अलग-अलग तीन विशेष कोर्ट में उपस्थित होकर हाजिरी लगाई। वे देवघर, दुमका, डोरंडा और चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित मामले में उपस्थित हुए थे।

इसके अलावा सीबीआइ के दो विशेष कोर्ट में अपने बचाव में ट्रेवल एजेंट व वर्तमान गो एयरवेज के कर्मी गुंजन कुमार और पटना के तत्कालीन मुखिया रामपनी सिंह की गवाही दर्ज करवाई। देवघर कोषागार से करीब 90 लाख रुपये की अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला कांड संख्या-आरसी 64ए/96 मामले में सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत और चाईबासा कोषागार से करीब 37 करोड रुपये की अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला कांड संख्या आरसी 68ए/96 मामले में सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश एसएस प्रसाद की अदालत में दोनों की गवाही दर्ज की गई।

सीबीआइ के विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने उनसे जिरह में पूछा कि लालू के टिकट पर दूसरे लोग भी यात्रा करते थे? गुंजन ने इससे इन्कार किया। कहा कि यह संभव नहीं है। विशेष लोक अभियोजक ने यह भी प्रश्न किया कि लालू के परिवार के सदस्य कैसे यात्रा करते थे? उनका टिकट कैसे कटता था? गुंजन ने कहा इसकी जानकारी नहीं है।

लालू के आवास पर छठ, होली, मकर सक्रांति व इफ्तार का होता था आयोजन :

रामपनी गवाह रामपनी सिंह ने कोर्ट में लालू प्रसाद के पटना स्थित आवास पर होने वाले आयोजनों और उसमें आम लोगों के भाग लेने के बारे में जानकारी दी। कहा कि लालू के पटना स्थित आवास पर छठ, इफ्तार, होली और मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जाता था। इसमें आमलोग भाग लेते थे। अधिकारी नहीं रहते थे। वे खुद भी भाग लेते थे।

डॉ. जगन्नाथ मिश्र मामले में गवाह से जिरह :

चारा घोटाला के डॉ. जगन्नाथ मिश्र से संबंधित दुमका कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित मामले में गवाह रवींद्र कुमार जैन से जिरह किया गया। अगली तिथि में जिरह के लिए उपस्थित होने को लेकर यूएन विश्वास को सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत ने समन जारी करने का आदेश दिया है। दोनों की गवाही सीबीआइ ने पूर्व में दर्ज करा चुकी है। इसमें डॉ. जगन्नाथ मिश्र के अधिवक्ता जिरह करने को लेकर बुलाने के लिए आवेदन न्यायालय में दिया था। इस मामले को लेकर चारा घोटाला कांड संख्या आरसी 38ए/96 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

अन्य खबरों के लिए पढ़ें :

National | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login