पाश्चात्य आहार से अल्जाइमर का खतरा

पाश्चात्य आहार से अल्जाइमर का खतरा

कोलेस्ट्रोल, वसा और शर्करा की उच्च मात्रा वाला #पाश्चात्य_आहार न्यूडीजनरेटिव रोग से जुड़े #एपोई4_जीन वाले लोगों में अल्जाइमर के विकास पर असर डाल सकता है।

एपोई4 और एपोई3 जीन के दो प्रकार प्रोटीन और एपोलिपोप्रोटीन के कोड हैं, जो वसा और कोलेस्ट्रॉल को बांधते हैं।

एपोई4 सूजन, अल्जाइमर और कार्डियोवैस्कुलर रोग की वृद्धि से जुड़ा हुआ है, जबकि एपोई3 रोग के जोखिम में वृद्धि नहीं करता है, और यह बहुत अधिक सामान्य प्रकार है।

शोध के निष्कर्षो से पता चलता है कि जब एपोई4 जीन वाले चूहों को पश्चिमी आहार से प्रेरित भोजन दिया गया तो इनमें बीटा एम्लॉइड प्रोटीन प्लेक की वृद्धि देखी गई, जो उनके दिमाग में सूजन का संकेत देती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के प्रोफेसर व इस अध्ययन के मुख्य लेखक क्रिस्चियन पाइक ने कहा, “इस शोध से प्राप्त निष्कर्ष बताते हैं कि यह जोखिम हर किसी को समान रूप से प्रभावित नहीं करता है, लेकिन अधिक जोखिम कारकों में यह अपना प्रभाव डाल सकता है।”

पाइक ने कहा, “आपके साथ क्या होता है, इसमें आपके जीन्स की बहुत बड़ी भूमिका होती है। लेकिन इसमें आपके वातावरण और परिवर्तनीय जीवनशैली की भी भूमिका होती है। आप कितना व्यायाम करते हैं और क्या खाते हैं, यह सब भी महत्वपूर्ण है।”

अन्य खबरों के लिए पढ़ेंNational | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login