आइआइटी के 4 छात्रों ने ठुकराई 1 करोड़ की नौकरी, जाने क्‍यों

आइआइटी के 4 छात्रों ने ठुकराई 1 करोड़ की नौकरी, जाने क्‍यों

after-cracking-iitjee-poor-students-now-struggle-for-counselling-fee_220614113240

आइआइटी कानपुर के मेधावी छात्र छात्राओं ने विदेशी कंपनियों के एक करोड़ रुपये से भी अधिक के पैकेज को ठुकरा दिया है। नौकरी ठुकराने वालों में तीन छात्र व एक छात्रा शामिल है। इनमें से दो छात्र ने उच्च शिक्षा के लिए विदेशी व नामचीन विश्वविद्यालयों में चयन होने पर नौकरी की जगह पढ़ाई को तरजीह दी है। जबकि एक छात्र और एक छात्रा ने अपनी प्रोफेशनल जरूरतों के अनुरूप नौकरी करने को लेकर इस ऑफर को ठुकरा दिया।आइआइटी के एक अधिकारी ने बताया कि छात्र छात्राएं कई बार उच्च शिक्षा को प्राथमिकता देने के चलते ऑफर ठुकराते रहे हैं। लेकिन इतने बड़े पैकेज का ऑफर पहली बार ठुकराया गया है। वहीं प्लेसमेंट अधिकारी प्रोफेसर दीपू फिलिप ने छात्रों का नाम न बताने के साथ इस मसले पर कोई टिप्पणी करने से इन्कार कर दिया। जिन छात्र छात्राओं का चयन एक करोड़ रुपये के पैकेज में किया गया था उनमें से एक छात्र और एक छात्रा ने दूसरी कंपनी की ओर से ऑफर किए गए 50 लाख रुपये के पैकेज को इसलिए स्वीकार कर लिया क्योंकि वे इसी तरह की नौकरी के पक्ष में थे। वहीं दो अन्य छात्रों ने आगे की पढ़ाई व शोध को तरजीह देते हुए पैकेज ठुकरा दिया। आइआइटी कानपुर में इस समय कैंपस प्लेसमेंट के लिए ढाई सौ कंपनियां पहुंची हैं। ये कंपनियां यहां पर अध्ययनरत 1200 छात्रों का चयन करने के लिए लगातार साक्षात्कार कर रही हैं। पिछले चार दिन से चल रहे कैंपस प्लेसमेंट के दौरान करीब साढ़े तीन सौ छात्रों का चयन किया जा चुका है। प्लेसमेंट के लिए आने वाली कंपनियों में सेल, एनटीपीसी, भेल, एचओएल समेत कई सरकारी कंपनियों के अलावा इंफोसिस, फेसबुक, एचसीएल, आइबीएम, ओरेकल, सोनी, सैमसंग, टाटा मोटर्स, आइसीसी व फ्लिपकार्ट शामिल हैं।

बीएयचू छात्र को 2.03 करोड़ की नौकरी

 भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (काशी ङ्क्षहदू विवि) के एक छात्र को पढ़ाई खत्म होने से पहले ही बहुराष्ट्रीय कंपनी ओरेकल ने सालाना दो करोड़ रुपये से अधिक की नौकरी दी है। एक अन्य छात्र को ‘गूगल माउंटेन व्यू’ ने 1.63 करोड़ के वार्षिक पैकेज का ऑफर दिया है। दो दर्जन बहुराष्ट्रीय कंपनियों के अलावा सात भारतीय कंपनियों ने भी बीएचयू आइआइटी के 168 छात्रों को लाखों के पैकेज पर नौकरी दी है।आइआइटी बीएचयू में नौकरियां बांटने का यह सिलसिला 21 दिसंबर तक चलेगा। आइआइटी-बीएचयू के प्रशिक्षण एवं नियुक्ति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष प्रो. एके अग्रवाल के अनुसार, माइक्रोसाफ्ट रेडमांड ने 80.29 लाख, एपिक सिस्टम ने 73.34 लाख, वक्र्स एप्लीकेशंस ने 33.29 लाख रुपये, गोल्डमैन सैश व अमेजन ने 30-30 लाख रुपये के अलावा दर्जनों विदेशी कंपनियों ने यहां के छात्रों पर भरोसा जताया है। वहीं देशी कंपनियों में ङ्क्षहदुस्तान यूनिलिवर ने सबसे ज्यादा 22 लाख की नौकरी आफर की है।

You must be logged in to post a comment Login