15 नवंबर को फिर से कम हो सकते हैं डीजल-पेट्रोल के दाम

15 नवंबर को फिर से कम हो सकते हैं डीजल-पेट्रोल के दाम

Diesel-635212-11-2014-03-20-99N

जून के बाद यह लगातार सातवीं बार होगा जब सरकारी तेल कंपनियां पेट्रोल की कीमत में कटौती करने जा रही हैं। वहीं डीरेगुलेशन के बाद यह तीसरी बार होगा जब डीजल के दाम में कटौती होगी। झारखंड और जम्मू-कश्मीर चुनाव से पहले सरकार एक बार फिर जनता को तोहफा दे सकती है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में भारी कमी के चलते यह कद उठाया जा रहा है।
इंडस्ट्री के जानकारों के मुताबिक इंडियन ऑयल कॉर्प (आईओसी), भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (एचपीसीएल) इस सप्ताह पेट्रोल और डीजल की कीमत में एक रूपया प्रति लीटर की कमी कर सकती हैं। दोनों तेल इस वर्ष की शुरूआत में अपने पीक से पहले ही 10-13 प्रतिशत तक सस्ते हो चुके हैं।
ग्लोबल ट्रेंड्स के मुताबिक, तेल के दाम हर महीने की शुरूआत और मध्य में घटाए-बढ़ाए जाते हैं। अगले चार दिनों में फ्यूल की अंतर्राष्ट्रीय कीमतों में और कमी आने पर इनकी रिटेल कीमतें भी उसी हिसाब से कम की जा सकती हैं। मंगलवार को बेंचमार्क ब्रेंड क्रूड लगभग 82 डॉलर प्रति बैरल के साथ चार वर्ष के निचले स्तर पर था ।
सूत्रों ने बताया, “31 अक्टूबर को दाम घटाने के बाद से गैसोलिन और डीजल के दाम एक-तीन डॉलर प्रति बैरल गिरे हैं। शनिवार तक इनमें और कमी हो सकती है, जब कंपनियां अपने रिटेल सेलिंग प्राइस को रिव्यू करेंगी। कटौती गैसोलिन और डीजल के 15 दिनों की औसत दर और डॉलर-रूपए के एक्सचेंज रेट पर निर्भर करेगी।

You must be logged in to post a comment Login