सानिया, सीमा को स्वर्ण, भारत नौवें स्थान पर बरकरार

सानिया, सीमा को स्वर्ण, भारत नौवें स्थान पर बरकरार
 sania~
इंचियोन. एशियाई खेलों के 10वें दिन डिस्कस थ्रो में सीमा पुनिया के स्वर्णिम प्रदर्शन के बाद भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा और साकेत की मिश्रित युगल जोड़ी ने चीनी-ताइपे की जोड़ी को लगातार सेटों में हराकर गोल्ड मेडल भारत की झोली में डाला। यह भारत का 6वां गोल्ड मेडल है।
योरूमल टेनिस कोर्ट्स के सेंटर कोर्ट पर हुए फाइनल मुकाबले में सानिया-साकेत की दूसरी वरीय जोड़ी ने चीनी ताइपे की सिएन यिन पेंग और हाओ चिंग चान की शीर्ष वरीय जोड़ी को सीधे सेटों में मात देकर स्वर्ण पदक पर कब्जा कर लिया। सानिया-साकेत ने पेंग-चान की जोड़ी को 44 मिनट तक चले मुकाबले में 6-4, 6-3 से हरा दिया।
सीमा का स्वर्णिम प्रदर्शन
डिस्कस थ्रो इवेंट में सीमा ने 61.03 मीटर का बेस्ट परफॉर्मेंस दिया। सिल्वर मेडल जीतने वाले चीन की झियाओझिन लू कुल 59.35 मीटर दूर तक ही डिस्क फेंक सकीं। मेडल सेरेमनी के दौरान सीमा की आंखों में आंसू थे। नेशनल एंथम के साथ उनकी आंखें नम होती गईं। कृष्णा पुनिया भी इस इवेंट में शामिल थीं, लेकिन उन्हें चौथे स्थान पर ही संतोष करना पड़ा। उन्होंने बेस्ट 55.57 मीटर की दूरी पर डिस्क फेंकी।
टेनिस के मिक्स्ड डबल्स इवेंट में इंडिया की सानिया मिर्जा और उनके पार्टनर साकेत मिनैनी गोल्ड जीतने से एक कदम दूर हैं। चाइनीज ताइपे की जोड़ी के खिलाफ इंडियन पेयर ने 1-0 की लीड ले ली है। पहले सेट में सानिया और साकेत ने 6-4 से जीत दर्ज की।
इससे पहले पहलवानों ने दो मेडल जीते हैं। पहले बजरंग ने 61 किग्रा वर्ग में सिल्वर हासिल किया, उनके बाद नरसिंह यादव ने 74 किग्रा वर्ग में ब्रॉन्ज जीता। टेनिस में पुरुष टीम को साउथ कोरिया से हारकर सिल्वर मेडल पर संतोष करना पड़ा। एथलेटिक्स में जयषा ने भी ब्रॉन्ज जीतकर मेडल टैली को आगे बढ़ाया।
हॉकी में हार
महिला हॉकी में इंडिया को निराशा हाथ लगी है। साउथ कोरिया के खिलाफ हुए सेमीफाइनल मैच में भारतीय टीम को 1-3 से हार मिली। अब टीम इंडिया 1 अक्टूबर को होने वाले ब्रॉन्ज मेडल मैच में उतरेगी, जहां उसका सामना जापान से होगा।
मैच के तीसरे ही मिनट में साउथ कोरिया की किम डाराए ने पहला गोल दागा। मैच के 11वें मिनट में नमिता टोप्पो ने गोल कर इंडिया को 1-1 की बारबरी पर ला दिया। दूसरे क्वार्टर में साउथ कोरिया ने पलटवार करते हुए बढ़त हासिल की। मेजबान टीम के लिए 29वें मिनट में हान हाइलयंग ने पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील किया।
तीसरे हाफ में कोरिया की मिह्युन पार्क ने 42वें मिनट में फील्ड गोल कर अपनी टीम की बढ़त को मजबूत किया।
एथलेटिक्स – इंडिया की ओपी जयषा ने 1500 मीटर महिला इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल जीता। पुरुष 3000 मीटर स्टीपलचेस में इंडिया के नवीन कुमार ने ब्रॉन्ज जीता।
टेनिस में सिल्वर
टेनिस में पुरुष टीम को इंडिया की पुरुष मैन्स डबल्स टेनिस टीम को सिल्वर से संतोष करना पड़ा है। यहां योरुमुल टेनिस कोर्ट पर हुए फाइनल मुकाबले में इंडिया के साकेत मिनैनी और सनम सिंह की जोड़ी को मेजबान साउथ कोरिया के लिम यॉन्गक्यू और चुंग हियॉन ने 7-5, 7-6 से पराजित किया।
कुश्ती में भी दो मेडल
कुश्ती में इंडिया के बजरंग ने सिल्वर मेडल जीत लिया है। 61 किग्रा पुरुष वर्ग में अपना बेहतरीन प्रदर्शन जारी रखते हुए उन्होंने जापान के नोरियूकी ताकात्सुका को हराकर फाइनल राउंड में जगह बनाई थी, लेकिन फाइनल में वे हार गए। उन्हें ईरान के मसूद इस्माइल ने 6-4 से हराया।
सेमीफाइनल मुकाबले में पहले 2 अंक जापानी ने हासिल किए। दूसरे राउंड में बजरंग ने अपनी तकनीक का इस्तेमाल करते हुए दो अंक अर्जित कर बराबरी हासिल कर ली। रेसलिंग के नए नियमों के आधार पर टाई की स्थिति में अंतिम बार अंक हासिल करने वाले पहलवान को विजेता घोषित किया जाता है। बजरंग उसी नियम के आधार पर विनर रहे।
74 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग वर्ग में नरसिंह यादव ने ब्रॉन्ज मेडल बाउट में जापान के डाइसुके शिमाडा को 3-1 से हराया। इससे पहले उन्होंने रेपेचेज मैच में तुर्कमेनिस्तान के रमजान कम्बारोव को 11-1 से पराजित किया था।
86 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में इंडिया को मायूसी हाथ लगी। रेपेचेज मुकाबले में पवन कुमार को चीन के फेंग झेंग ने 4-1 से शिकस्त दी।
पवन कुमार ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पुरुष फ्रीस्टाइल 86 किग्रा वर्ग के क्वार्टरफाइनल में जगह बनाई थी, जहां उन्हें ईरान के मीसाम मुस्तफाजौकर ने 4-0 से पराजित किया।। पहले राउंड में पवन ने नेपाल के सुमिर कुमार साह को महज 1 मिनट के समय में 10-0 से पराजित किया था। पुरुष फ्रीस्टाइल 74 किग्रा वर्ग में नरसिंह पंचम यादव पहले ही राउंड में हारे।
बॉक्सिंग
बॉक्सिंग के मिडलवेट (75 किग्रा) वर्ग में भारत के विकास कृष्ण ने क्वार्टरफाइनल में जगह बनाई। उन्होंने राउंड ऑफ 16 में किर्गिस्तान के ऊलू आजम केन्यबेक को 3-0 से पराजित किया। विकास का तीनों राउंड्स में स्कोर परफेक्ट 30 का रहा।
पुरुष मुक्केबाजी में इंडिया के गौरव बिधुरी का सफर क्वार्टरफाइनल में खत्म हुआ। उन्हें उज्बेकिस्तान के जोइरोव शाखोबिदिन ने 3-0 से पराजित किया।
बास्केटबॉल में भी मेडल की उम्मीद
इंडिया की महिला बास्केटबॉल टीम रैंक 5/6 के फाइनल में पहुंच गई है। 1 अक्टूबर को होने वाले फाइनल मैच में इंडिया का सामना कजाखस्तान से होगा। यदि भारतीय टीम कजाखस्तान को पराजित करने में सफल होती है तो वह गोल्ड मेडल राउंड में पहुंचेगी। फाइनल्स में पराजय मिलने पर उसे ब्रॉन्ज मेडल मैच में संघर्ष करना पड़ेगा।
यहां  ह्वासियॉन्ग स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स जिम्नेशियम में इंडियन टीम ने मंगोलिया को 68-50 के स्कोर से पराजित किया। इंडिया के लिए प्रशंती सिंह ने सर्वाधिक 17 अंक बटोरे, वहीं पी. जीना ने 15 व रसप्रीत सिंधू ने 14 अंक स्कोर किए। इंडियन टीम की कप्तान स्मृति राधाकृष्णन ने 10 अंक स्कोर किए।
कबड्डी – पुरुष टीम ने थाईलैंड को 66-27 से पराजित किया।

You must be logged in to post a comment Login