संघर्ष विराम उल्लंघन से संयुक्‍त राष्‍ट्र चिंतित

संघर्ष विराम उल्लंघन से संयुक्‍त राष्‍ट्र चिंतित

ebiharjharkhand_jammu

नई दिल्ली। अमेरिका के एक शीर्ष सांसद ने भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा पर हो रहे संघर्ष विराम उल्लंघनों को लेकर गहरी चिंता जताई और सलाह दी कि संयुक्त राष्ट्र वर्तमान संकट के हल में ‘मददगार’ हो सकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हालात के जल्द सुधरने से जुड़ी टिप्पणी को ‘आश्वस्त करने वाला’ बताते हुए सीनेटर और दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों की सीनेट की उपसमिति के अध्यक्ष टिमोथी एम कैन ने जम्मू-कश्मीर के सीमाई इलाकों में हालात के सामान्य होने की उम्मीद जताई। मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की पाकिस्तान की कोशिश और उसकी संयुक्त राष्ट्र से हस्तक्षेप की मांग को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए कैन ने कहा कि उन्हें लगता है कि संघर्षविराम की तरफ लौटने को लेकर चर्चा में कई बार संयुक्त राष्ट्र मददगार भागीदार हो सकता है इसलिए उन्हें लगता है कि महासचिव की इसे लेकर टिप्पणी उचित थी। गौरतलब है कि बुधवार को संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून ने भारत और पाकिस्तान से कूटनीति और वार्ता के माध्यम से अपने मुद्दों के हल के लिए कहा था। कैन ने कहा कि हालांकि मैंने संयुक्त राष्ट्र की सही भूमिका या कितनी गहराई तक भूमिका निभाने की जरूरत के बारे में नहीं सोचा है, लेकिन विवादों के शांतिपूर्ण हल के प्रोत्साहक के रूप में संयुक्त राष्ट्र सही काम करता है और उस लिहाज से मुझे लगता है कि उसकी भागीदारी का स्वागत किया जाना चाहिए।

You must be logged in to post a comment Login