राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिले पीएम मोदी, रविवार को हो सकता है कैबिनेट का विस्तार?

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिले पीएम मोदी, रविवार को हो सकता है कैबिनेट का विस्तार?

55593-pm-president-125

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बीच आज मुलाकात हुई है। इस मुलाकात में प्रधानमंत्री मोदी ने कैबिनेट विस्तार को लेकर राष्ट्रपति से चर्चा की हैं । बताया जा रहा है कि रविवार को मंत्रीमंडल का विस्तार हो सकता है।सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार में गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का शामिल होना अब केवल एक औपचारिकता भर ही है। बुधवार शाम मनोहर पर्रिकर ने नरेंद्र मोदी से उनके आवास सेवन रेसकोर्स पर मुलाकात की। रिपोर्ट के मुताबिक रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने कैबिनेट का विस्तार करेंगे। रविवार को पर्रिकर मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं।ऐसी चर्चा है कि लगभग 10 मंत्रियों को कैबिनेट के इस फेरबदल में जगह मिल सकती है।  हरियाणा के जाट नेता वीरेंद्र सिंह, बिहार से भाजपा सांसद गिरिराज सिंह या अश्विनी चौबे, राजस्थान से जी. एस. शेखावत को केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की अटकलें जोरों पर हैं। वीरेंद्र सिंह ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की थी। नजमा हेपतुल्ला की मंत्री पद से छुट्टी हो सकती है। हेपतुल्ला के बारे में बताया जा रहा है कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं चल रहा है। राधामोहन सिंह को कृषि मंत्रालय से ग्रामीण विकास मंत्रालय में शिफ्ट किया जा सकता है। सूत्र बताते हैं कि राधामोहन सिंह के कामकाज से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुश नहीं हैं।रक्षा मंत्रालय का अस्थायी प्रभार अभी केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली के पास है। जेटली कंपनी मामलों के मंत्रालय की भी जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। छह से ज्यादा मंत्री अभी एक से ज्यादा प्रभार संभाल रहे हैं। सड़क परिवहन एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ग्रामीण विकास मंत्रालय का भी प्रभार संभाल रहे हैं जबकि केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के पास सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार मंत्रालय का भी प्रभार है।पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के पास सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार है जबकि ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल कोयला एवं खदान मंत्रालयों की भी जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू के पास शहरी विकास विभाग भी है जबकि वित्त मंत्रालय में राज्य मंत्री निर्मला सीतारमण के पास वाणिज्य मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार है।पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के पुत्र एवं पहली बार सांसद बने जयंत सिन्हा, हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के पुत्र एवं सांसद अनुराग ठाकुर और मुख्तार अब्बास नकवी को भी मंत्री पद मिलने की संभावना जताई जा रही है।यदि नए मंत्रियों को शामिल किया जाता है तो मई महीने में मोदी सरकार के बनने के बाद यह पहला कैबिनेट फेरबदल होगा। चर्चा है कि रविवार को फेरबदल की कवायद को अंजाम दिया जा सकता है क्योंकि मोदी 11 नवंबर को तीन देशों की नौ दिवसीय यात्रा पर रवाना होंगे। संसद का शीतकालीन सत्र 24 नवंबर से शुरू होगा, लिहाजा नए मंत्रियों के पास सदन का सामना करने की तैयारी के लिए थोड़ा वक्त होगा।

You must be logged in to post a comment Login