मिड-डे मील में शराब, बच्चे बीमार…

मिड-डे मील में शराब, बच्चे बीमार…
1417878035-0769 (1)
छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में खाने से जोगीपाली प्राथमिक शाला के 30 बच्चे बीमार हो गए हैं। बीमार बच्चों को इलाज के लिए उन्हें जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। वहीं, सभी बच्चों की स्थिति सामान्य बताई जा रही है। उल्लेखनीय है कि मिड डे मील महिला समिति की जगह एक शराबी ने बनाया था। किचन में ही पहले उसने अपने कुछ साथियों के साथ बैठकर जाम छलकाया, उसके बाद बच्चों को भोजन बांटा।
 एक साथ इतनी संख्या में बच्चों के अस्वस्थ होने की खबर से प्रशासन में हड़कंप मच गया। गौरतलब है कि जिला मुख्यालय से लगभग 30 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत कनकी के आश्रित ग्राम जोगीपाली स्थित प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन बनाने का कार्य विभाग की ओर से जय भवानी महिला समिति को सौंपा गया है।
 प्रारंभिक दौर में महिला समिति के सदस्य बारी-बारी से स्कूल पहुंचकर भोजन का निर्माण कर रहे थे, लेकिन कुछ ही दिन बाद समिति अध्यक्ष धनकुंवर के पति फूल सिंह पटेल ने दबंगई दिखाना शुरू कर दिया।
 उसने समिति के सदस्यों को भोजन बनाने से मना कर दिया। इसके बाद भी समिति की सचिव सोनिया भोजन बना रही थी, जिससे विवाद करते हुए फूल सिंह ने मिड डे मील का निर्माण बंद करा दिया। इसके साथ ही वह खुद ही भोजन बनाने के काम में लग गया।
 फूल सिंह रोज सुबह शराब के नशे में धुत होकर स्कूल पहुंचता था। यहां शराब के नशे में ही वह भोजन बनाने के बाद इसका वितरण बच्चों को करता था।
 यही नहीं वह अपने दोस्तों के साथ भी बैठकर जाम छलकाता था। इस सब की जानकारी स्कूल प्रबंधन को भी थी, लेकिन इस पर रोक लगाने का कोई प्रयास नहीं किया गया। लिहाजा इस लापरवाही की वजह से शुक्रवार को बड़ी घटना हो गई। स्कूल के 30 बच्चे फूल सिंह के बनाए भोजन खाकर बीमार हो गए।
 पुलिस ने मिड डे मील का सैंपल लिया है, जिसे जांच के लिए भेजा जाएगा। ऐसा माना जा रहा है कि सोयाबीन की बड़ी व आलू की सब्जी में शराब गिर गई थी।
 नशे की अवस्था में फूल सिंह ने वैसे ही भोजन बच्चों को परोस दिया। हालांकि अभी जांच रिपोर्ट आनी बाकी है। जिला अस्पताल में दाखिल ज्यादातर बच्चों ने भोजन में शराब की गंध आने की बात कही।
 उधर आक्रोशित महिला समिति के सदस्यों ने उस पर एक साल से जबरन भोजन बनाने व प्रधानपाठक के साथ कर फर्जी आहरण करने का आरोप लगाया है। महिला समिति के सदस्यों का कहना था कि अध्यक्ष का पति फूलसिंह ने ही उन्हें भोजन बनाने से मना किया था।

You must be logged in to post a comment Login