बिहार में एक और दवा घोटाला

बिहार में एक और दवा घोटाला सामने आया है। पटना मेडिकल कॉलेज व अस्पताल (पीएमसीएच) के बाद यहां स्थित नालंदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल (एनएमसीएच) में भी बड़े पैमाने पर दवा और मशीन की खरीददारी में अनियमितता पाई गईं है।

राज्य निगरानी ब्यूरो ने तत्कालीन अस्पताल अधीक्षक समेत 14 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाकर प्राथमिकी दर्ज की है।

ब्यूरो से मिली जानकारी के अनुसार, 2008 से 2010 के बीच हुई इस खरीददारी में अनियमितता की शिकायत मिली थी। जिसके बाद ब्यूरो ने कांड संख्या 78 की जांच कर प्रारंभिक तौर पर शिकायत को सही पाया। हालांकि अब तक यह पता नहीं चल पाया है कि इस खरीददारी में कितने का गबन हुआ है।

ब्यूरो ने इस मामले में शुक्रवार को एक प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। प्राथमिकी में तत्कालीन अस्पताल अधीक्षक डॉ. कैप्टन एनपी यादव समेत कुल 14 डॉक्टरों और कर्मचारियों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। साथ ही छह आपूर्तिकर्ताओं पर भी मामले दर्ज किए गए हैं।

You must be logged in to post a comment Login