फल भी बना सकते हैं आपको मोटा, जानें कैसे?

फल भी बना सकते हैं आपको मोटा, जानें कैसे?

RPJHONL0160511201411ZA15ZA40 AM

यह भले ही आपको अजीब लगे, लेकिन बहुत-सी ऎसी वजहें हैं, जिनके चलते कुछ फल आपको मोटा भी बना सकते हैं। इसलिए अगली बार से जब भी फल खाएं, इन कुछ वजहों को अपने दिमाग में रखें और फल खाकर पतली ही बनी रहें।
ब्लड शुगर में बढ़ोतरी
कुछ फलों जैसे केला, आम और कुछ किस्म के आड़ू में शर्करा की मात्रा काफी होती है। इनसे खून में शर्करा की मात्रा बढ़ सकती है। इसलिए जब भी फल खाएं तो उसके बीस मिनट बाद प्रोटीन युक्त चीजें जैसे मुट्ठी भर मेवे या एक टुकड़ा चीज का खाएं। फल के बाद प्रोटीन नहीं लेने से खून में इंसुलिन का स्तर भी काफी बढ़ जाता है। इंसुलिन में यह उतार-चढ़ाव थकान पैदा करने के साथ-साथ वजन भी बढ़ा सकता है।
अधिक ग्लाइसेमिक इंडेक्स
आप भले ही ग्लाइसेमिक इंडेक्स के बारे में विस्तृत रूप से न जानती हों, लेकिन जिन फलों का ग्लाइसेमिक इंडेक्स ज्यादा हो, उन्हें आप न खाएं। केला, आम का ग्लाइसेमिक इंडेक्स ज्यादा होता है। इसलिए इन फलों को बहुत ज्यादा मात्रा में न खाएं। इन्हें खाने से शरीर में इंसुलिन का स्तर प्रभावित होता है, जिससे वसा जमा होती है।
साधारण ग्लूकोस ही हैं फल
कुल मिलाकर फल साधारण चीनी या ग्लूकोस ही हैं। इसलिए इन्हें खाने से खून में शर्करा की मात्रा बढ़ सकती है। इसका मतलब यह नहीं है कि आप फल खाएं ही नहीं, बल्कि इन्हें संतुलित मात्रा में खाएं, ताकि वजन न बढ़े।
कैलोरी के मुताबिक खाएं
कई बार आप वजन कम करने की सोचती हैं, लेकिन आपको लगता है कि फल खाने से आपको कोई फर्क नहीं पड़ता तो जान लें कि ये भी कैलोरी का अहम स्त्रोत होते हैं। जैसे आप दिन भर में 1600 कैलोरी लेना तय करती हैं तो उसके आगे कुछ भी न खाएं, फल भी नहीं। यह सही है कि सारे फलों में एक समान कैलोरी नहीं होती, लेकिन ध्यान रखें कि आप मोनो मील पर न रहें या केले-आम की स्मूदी न लें।
मोनो मील से बचें
डाइट करने वाली बहुत-सी महिलाएं मोनो मील लेती हैं। मोनो मील के दौरान एक ही तरह की चीज(सामान्यतया फल) खाई जाती है। मोनो मील में अक्सर 5 केले या 5 आम या 20 खजूर जैसी चीजें शामिल होती हैं। फल खाना अच्छा है, लेकिन आप यदि सारा दिन फल पर ही रहती हैं तो कई बार एक सामान्य लंच की तुलना में ज्यादा कैलोरी ले लेती हैं। लंच में 10 केले खाने का मतलब है 1000 कैलोरी लेना और यदि आप व्यायाम के जरिए उन अतिरिक्त कैलोरी को खर्च नहीं कर रही हैं तो आपका वजन बढ़ सकता है।
पेट में सड़ सकते हैं फल
फल हमेशा खाली पेट खाने चाहिए। इससे इनके पाचन में केवल 20 मिनट खर्च होते हैं और शरीर डिटोक्स भी हो जाता है, लेकिन यदि आप भरे पेट फल खाती हैं तो फलों में फर्मंटेशन हो सकता है, जिससे पेट में गैस बन जाती है और पेट दर्द करने लगता है। खाने के साथ फल खाने से वजन बढ़ता है, सो अलग।
पता नहीं चलता कितना खाना चाहिए
चूंकि फल सेहतमंद होने के साथ-साथ विटामिन और दूसरे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, इसलिए कई बार उन्हें जरूरत से ज्यादा खा लिया जाता है। एक मध्यम आकार के फल के औसत टुकड़े में 80 से 120 कैलोरी होती हैं। फल खाते समय यह पता ही नहीं चलता कि फलों को कितनी मात्रा में खाना चाहिए। जैसे तीन केले एक पूरे भोजन के बराबर ही होते हैं। इसलिए फल भी उचित मात्रा में ही खाएं।

You must be logged in to post a comment Login