पेरिस, पैगंबर का कार्टून छापने वाली पत्रिका के दफ्तर पर हमला, एडिटर समेत 12 की मौत

पेरिस, पैगंबर का कार्टून छापने वाली पत्रिका के दफ्तर पर हमला, एडिटर समेत 12 की मौत

france_newspaper_attack_2_010715075931

पेरिस में बुधवार को अज्ञात बंदूकधारियों ने व्यंग्य-पत्रिका ‘शार्ली एब्दो’ के दफ्तर पर हमला बोल दिया. हमले में कम से कम 12 लोगों के मरने की खबर है, वहीं 6 गंभीर रूप से घायल हैं. पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि मरने वालों में 9 पत्रकार और 2 पुलिसकर्मी शामिल हैं. पत्रिका के संपादक स्टीफन चारबोनियर की भी हमले में मौत हो गई है.हमले के बाद फ्रांस में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. दिल्ली में भी भीड़-भाड़ वाले इलाकों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है.कार्टूनिस्ट कोरीन रे उर्फ ‘कोको’ उन लोगों में से हैं जिन्होंने बिल्डिंग के भीतर छिपकर अपनी जान बचाई. उन्होंने दावा किया कि हमलावर सधी हुई फ्रेंच भाषा बोल रहे थे और खुद को अलकायदा का बता रहे थे. उन्होंने बताया, ‘हमला पांच मिनट तक चला. उन्होंने वोलिंस्की और काबू को गोली मार दी. मैं एक डेस्क के नीचे छिप गया. वे परफेक्ट फ्रेंच बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि वे अलकायदा से हैं.’

हमलावरों ने लगाए नारे!
बताया जा रहा है कि हमलावर मैगजीन में छपे पैगंबर मुहम्मद के कार्टून से नाराज थे. पत्रिका काफी समय अपने कथित ‘इस्लाम विरोधी’ कंटेंट की वजह से कट्टरपंथियों के निशाने पर थी. इसने हाल ही में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के मुखिया अबू बकर अल-बगदादी का कार्टून भी ट्विटर पर शेयर किया गया था. पुलिस ने दावा किया कि घटनास्थल पर हमलावरों ने ‘हमने पैगबंर का बदला ले लिया’ जैसे नारे लगाए.फ्रांस के पेरिस में बुधवार को तीन नकाबपोश बंदूकधारियों ने व्यंग्य-पत्रिका ‘शार्ली एब्दो’ के दफ्तर पर हमला बोल दिया. इस हमले में पत्रिका के संपादक स्टीफन चारबोनियर समेत कम से कम 12 लोगों की हत्या कर दी गई है, वहीं ताजा अपडेट के मुताबिक 18 साल के एक हमलावर ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है. सूत्रों के हवाले से खबर है कि हमिद मोराद नाम के इस हमलावर ने बुधवार रात करीब 11 बजे खुद को पुलिस के हवाले कर दिया. मोराद ने अपना नाम सोशल मीडिया पर आने के बाद आत्मसमर्पण किया. पुलिस और खुफिया एजेंसियां उससे गहन पूछताछ कर रही हैं.फ्रांस की पुलिस ने सभी तीन हमलावरों की पहचान कर ली है. इनमें हामिद मोराद के अलावा एक का नाम कोआची (34) और दूसरे का नाम शेरिफ कोआची (32) है. पुलिस ने दोनों की तस्वीर भी जारी की है. इनमें से एक इससे पहले भी आतंकी वारदातों में नामजद हो चुका है. दोनों भाई बताए जा रहे हैं और पुलिस इनकी तलाश कर रही है. दोनों के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी किया जा चुका है. दोनों फ्रांस के रहने वाले हैं, जबकि मोराद रीम्स के उत्तर-पूर्वी इलाके का रहने वाला है.

You must be logged in to post a comment Login