पटना हवाई अड्डे पर बढ़ी यात्रियों और उड़ानों की तादाद

पटना हवाई अड्डे पर बढ़ी यात्रियों और उड़ानों की तादाद

पटना हवाई अड्डे पर यातायात इस कदर बढ़ गया है कि अब एक नया हवाई अड्डा बनाने की मांग उठने लगी है। पिछले चार सालों के दौरान हवाई अड्डे पर यात्रियों, रोजाना उड़ानों की संख्या लगभग दोगुनी हो गई है। देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडिगो एयरलाइन्स और छोटी प्रतिस्पद्र्धी विमानन कंपनियां जैसे गोएयर छोटे शहरों में हवाई यातायात की बढ़ती मांग का पूरा फायदा उठाना चाह रही हैं।

दरअसल उन्हें ट्रंक रूट या एक बड़े शहर को दूसरे बड़े शहर को जोडऩे वाले हवाई मार्ग पर नुकसान उठाना पड़ रहा है। इसकी भरपाई के लिए वे छोटे मार्गों पर ध्यान केंद्रित कर रही हैं। पटना हवाई अड्डे पर परिचालन देखने वाले संतोष कुमार कहते हैं, ‘हवाई अड्डे पर आगमन और प्रस्थान के लिए निर्धारित स्थान की क्षमता लगभग पूरी हो गई है। अब बड़ा टर्मिनल उपलब्ध होने के बाद ही और अधिक विमानों का परिचालन प्रबंधित संभव हो पाएगा। अब हमें एक बड़े हवाई अड्डïे की आवश्यकता है।’

You must be logged in to post a comment Login