निलंबन पर आईएमए और भाषा का शिष्टमंडल मुख्यमंत्री से मिला

निलंबन पर आईएमए और भाषा का शिष्टमंडल मुख्यमंत्री से मिला

Jitanram Manjhi _ ebiharjharkhand

पटना। इंडियन मेडिकल एसोसियेशन “आईएमए” की बिहार इकाई और बिहार राज्य स्वास्थ्य सेवा संघ “भासा” ने पटना के गांधी मैदान भगदड़ मामले में चिकित्सकों के खिलाफ निलंबन तथा कार्रवाई किये जाने के विरोध में मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी से भेंट की। आईएमए के वरीष्ठ उपाध्यक्ष डा. सुनील कुमार सिंह और भासा के महासचिव डा. सहजानंद सिंह के नेतृत्व में चिकित्सकों का एक शिष्ट मंडल मुख्यमंत्री से भेंट की। मुख्यमंत्री से भेंट के दौरान चिकित्सकों ने अपने एक-एक पक्ष को रखा। चिकित्सकों ने मुख्यमंत्री से कहा कि भगदड़ के बाद पटना मेडिकल कालेज अस्पताल में आपात स्थिति में आए लोगो का बेहतर ढंग से इलाज किया गया था। सभी मरीजों का बेहतर ढंग से जहां इलाज किया गया वहीं 24 घंटे निगरानी की गई जिसका परिणाम बेहतर निकला है। भेंट के बाद चिकित्सकों ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पीएमसीएच के चिकित्सकों के प्रयासो की सराहना के बजाए दंडात्मक कार्रवाई हतोत्साहित करने वाली है। ऎसे में सरकार को अपने आदेश पर पुनर्विचार करना चाहिए। चिकित्सकों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने शिष्ट मंडल की बातों को ध्यानपूर्वक सुना और उन्हे लिखित आवेदन देने को कहा है। गौरतलब है कि बिहार सरकार ने दशहरा भगदड़ के बाद पटना मेडिकल कालेज “पी एम सी एच” में बदइंतजामी और कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में अस्पताल के अधीक्षक डा0 लखीन्द्र प्रसाद को निलंबित करने के साथ ही चार चिकित्सकों का स्थानांतरण करते हुए तीन विभागाध्यक्ष को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

You must be logged in to post a comment Login