नहाय-खाए के साथ शुरू हुआ छठ का चार दिवसीय महाअनुष्ठान

नहाय-खाए के साथ शुरू हुआ छठ का चार दिवसीय महाअनुष्ठान

images

छठ महापर्व का चार दिवसीय अनुष्ठान आज नहाय-खाय के साथ शुरू हो गया है। व्रतियों ने आज गंगा घाट पर स्नान कर कद्दू की सब्जी, चने का दाल और अरवा चाव खाकर व्रत का संकल्प लिया। गंगा घाटों पर पूजा का गेहूं भी लोग सुखाते दिखे। राजधानी के आस-पास के इलाकों में व्रतियों के यहां लोक आस्था के महापर्व की तैयारी अंतिम दौर में है। कल राजधानी पटना में हुई जोरदार बारिश ने आम लोगों के साथ छठ व्रतियों को भी खासा परेशान कर दिया था। लोगों की जुबां पर बस एक ही बात थी कि ऐसे मौसम में छठ घाट तक कैसे पहुंचेंगे। पर आज सूर्य देव ने कृपा दिखाई और चारो ओर धूप खिल उठी। कई छठ व्रतियों के घर में छत पर गेहूं को सुखाया जा रहा है। मंगलवार को खरना, बुधवार को निर्जला उपवास शाम का अर्घ्य और गुरुवार की सुबह उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के बाद पारण होगा। इधर, राजधानी के छठ घाटों की साफ-सफाई, लाइटिंग, साज-सज्जा और भगवान भास्कर की प्रतिमा स्थापित करने की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। पटना कॉलेज घाट जाने वाले व्रतियों के लिए वाहन पार्किंग की बेहतर व्यवस्था है। घाट बनाने की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। पहुंच पथ बनाने का काम भी लगभग पूरा हो गया है। साफ-सफाई का काम हो चुका है। बैरिकेडिंग की गई है, ताकि व्रती अधिक पानी में नहीं जाएं। पूजा समिति के सहयोग से लाइटिंग की व्यवस्था कराई जा रही है। कॉलेज के छोटे गेट को तोड़ कर बड़ा किया गया है, ताकि व्रतियों को आने में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हो। यहां छठ व्रतियों को घाट तक पहुंचने के लिए पटना कॉलेज के मुख्य गेट से प्रवेश करना होगा। प्रवेश करते ही दो मैदान हैं, जहां वाहन पार्क किए जा सकते हैं। यहां पटना कॉलेज वाणिज्य कॉलेज के भवनों में लोग रात में ठहर भी सकते हैं। बढ़ाई गई चौकसी प्रमंडलीय आयुक्त नर्मदेश्वर लाल ने कहा कि सभी घाटों पर चौकसी बढ़ा दी गई है। बम डॉग स्क्वायड से जांच कराई जा रही है। एक सेक्टर पदाधिकारी के जिम्मे करीब पांच घाट होंगे। दंडाधिकारियों की नियुक्ति भी की जा रही है। सेक्टर पदाधिकारी का कार्य एडीएम स्तर के पदाधिकारियों को दिया गया है। वे दंडाधिकारियों से संपर्क में रहेंगे। वे हर घाट पर घूमते भी रहेंगे। प्रशासन की ओर से जानकारी दी गई है कि दानापुर से पटना सिटी तक के घाटों को 17 सेक्टर में बांटा गया है। वहां प्रभारी दंडाधिकारी पुलिस पदाधिकारी की नियुक्ति हो गई है। घाट निरीक्षण के लिए गठित जांच दल को रिपोर्ट देने को कहा गया है। हालांकि, रविवार को हुई बारिश ने समस्या खड़ी कर दी है। अब देखना होगा कि घाटों पर जलस्तर में तो बढ़ोतरी तो नहीं हो रही है। प्रशासन की टीम एक बार फिर घाटों का दौरा कर वहां की स्थिति को जानने का प्रयास कर रही है। भारी वाहनों पर रोक छठ के दौरान पटना जिले में भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक रहेगी। सभी प्रवेश मार्गों पर बड़े व्यावसायिक वाहनों को नहीं आने दिया जाएगा। ट्रैफिक एसपी प्राणतोष कुमार दास ने बताया कि पर्व के मौके पर शहर में होने वाली भीड़ को देखते हुए वाहनों का प्रवेश रोका जाएगा। ट्रैफिक पर बढ़ने वाले दबाव को कम करने के लिए ऐसा किया गया है। बुधवार को दिन के 10 बजे से लेकर गुरुवार को दिन के 10 बजे तक रोक लगी रहेगी।

You must be logged in to post a comment Login