नरेंद्र मोदी दुनिया के पहले अंतरराष्‍ट्रीय नेता बन गये जिसने फिजी के संसद को संबोधित किया

नरेंद्र मोदी दुनिया के पहले अंतरराष्‍ट्रीय नेता बन गये जिसने फिजी के संसद को संबोधित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दस दिवसीय विदेश दौरे के अंतिम चरण में ऑस्‍ट्रेलिया से फिजी पहुंचे जहां उन्होंने संसद को संबोधित किया। इस संबोधन के साथ ही नरेंद्र मोदी दुनिया के पहले ऐसे अंतरराष्‍ट्रीय नेता बन गये जिसने फिजी के संसद को संबोधित किया। उनके बाद मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं, जो इस पैसिफिक आइलैंड देश की यात्रा पर आए हैं। फिजी की जनसंख्या 8 लाख 49 हजार है, वहीं 37 प्रतिशत भारतीय मूल के लोग वहां रहते हैं। 1999 में फिजी में भारतीय मूल के प्रधानमंत्री बने थे, फिर एक साल बाद तख्तापलट हुआ था। 33 साल बाद भारतीय प्रधानमंत्री फिजी पहुंचे हैं। वर्ष 1981 में इंदिरा गांधी फिजी गई थीं। अपने संबोधन में मोदी ने फिजी को भारत की ओर से 70 मिलियन डॉलर के मदद की घोषणा भी की। फीजी नेशनल यूनिवर्सिटी में आयोजित इस कार्यक्रम में मोदी ने सिविल सोसाइटी के प्रतिनिधियों को संबोधित किया। इस दौरान लोग मोदी को देखने और सुनने के लिए काफी उत्साहित थे। मोदी ने इस अवसर पर कहा कि भारत सिर्फ भारत का विकास नहीं चाहता, बल्कि सहयोगी देशों के साथ समग्र विकास की परिकल्पना कर रहा है। इस दौरान उन्होंने मार्स आर्बिटर मिशन में फीजी की ओर से दी गई मदद की भी चर्चा की। पीएम मोदी ने कहा कि भारत पुन: ‘विश्वगुरु’ होने की तरफ अग्रसर है। पीएम नरेंद्र मोदी बोले, “मेरा दिल यहीं बसता है। मैं यहां आकर काफी खुशी महसूस कर रहा हूं। भारत और फिजी में कुछ काम चुनौतियां हैं। दोनों देश मिलकर काम करेंगे। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को यहां अपने समकक्ष फ्रैंक बैनीमरामा के साथ द्विपक्षीय वार्ता की। जिसके बाद भारत और फिजी के बीच तीन मुद्दों पर समझौते किए गए।

You must be logged in to post a comment Login