नक्सली से संबंध के मामले में योगेन्द्र साव गिरफ्तार

नक्सली से संबंध के मामले में योगेन्द्र साव गिरफ्तार

yogendra_ebiharjharkhand

दिल्ली क्राइम ब्रांच और झारखंड पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन चलाकर एक बड़ी कामयाबी हासिल की है. दोनों राज्यों की पुलिस ने ज्वाइंट ऑपरेशन कर झारखंड के पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता योगेंद्र साव को दिल्ली के शकूर पुर इलाके से गिरफ्तार कर लिया है. साव पर नक्सलियों से रिश्ते रखने का आरोप है.

झारखंड पुलिस को काफी दिनों से पूर्व मंत्री की तलाश थी. इसके लिए झारखंड पुलिस ने सर्च ऑपरेशन चला रखा था. योगेंद्र साव पर झारखंड में दो आपराधिक संगठन झारखंड टाईगर्स और झारखंड बचाओ आंदोलन चलाने का आरोप है. पुलिस के मुताबिक ये संगठन लोगों से उगाही करते थे और फिर इन रुपयों को आगे नक्सली संगठनों को दे दिया जाता था. योगेंद्र पर इसके अलावा हत्या और हत्या के प्रयास जैसे मामले भी दर्ज हैं.

पुलिस ने योगेंद्र को शनिवार की शाम शकूर पुर से गिरफ्तार किया और रविवार को दोपहर दो बजे रोहिणी कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने उन्हें तीन दिन की ट्राजिंट रिमांड पर झारखंड पुलिस के हवाले कर दिया. झारखंड पुलिस के मुताबिक योगेंद्र साव झारखंड टाईगर्स का मुखिया था और ये संगठन लोगों से उगाही करता था. इसके अलावा भी योगोंद्र पर हजारीबाग में कई मामले दर्ज हैं. नक्सलियों के साथ संबंध रखने के आरोप में हजारीबाग की एक अदालत ने पिछले महीने साव के खिलाफ वारंट जारी किया था.

साव ने इसी मुद्दे पर पिछले महीने झारखंड मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था. पुलिस ने पिछले महीने हजारीबाग में झारखंड टाइगर्स संगठन के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया था. पुलिस सूत्रों ने कहा कि गिरफ्तार लोगों ने स्वीकार किया है कि साव की मदद से इस संगठन को खड़ा किया गया है.

You must be logged in to post a comment Login