नई दिल्ली : भाजपा ने वेबसाइट की गलती को सुधारा

नई दिल्ली : भाजपा ने वेबसाइट की गलती को सुधारा

                     BJP123

प्रदेश भाजपा की नई वेबसाइट पर दिल्ली के नेताओं को भूलने वाली भाजपा ने भूले-बिसरे नेताओं को याद कर लिया है। दिल्ली भाजपा ने अपने वेबसाइट पर सभी पूर्व अध्यक्षों की तस्वीर लगा दी है।

प्रदेश भाजपा की वेबसाइट पर केंद्रीय नेतृत्व के साथ ही प्रदेश भाजपा अध्यक्षों की सूची के साथ तस्वीर भी लगा दी गई है। अब उस वेबसाइट पर प्रदेश भाजपा ने जनसंघ के ज़माने से अघ्यक्षों की सूची को अंकित किया है।

इसमें दीपक से कमल तक की गौरवमयी यात्री यानी 1951 में सबसे पहले प्रदेश अध्यक्ष बने वैध गुरू दत्त से अबतक के प्रदेश अध्यक्षों की सूची डाल दी गई है।

साथ ही वेबसाइट पर दिल्ली में प्रदेश अध्यक्ष रह चुके जनसंघ व भाजपा नेता बलराज मधोक, केदरानाथ साहनी, मदनलाल खुराना, भाई महावीर, हरदयाल देवगुण, लालकृष्ण आडवाणी, प्रो. विजय कुमार मल्होत्रा, ओपी कोहली, डॉ. हर्षवर्धन, विजेंद्र गुप्ता और विजय गोयल की तस्वीर भी लगा दी गई है।

उल्लेखनीय है कि रविवार को अमर उजाला ने दिल्ली में पार्टी खड़ी करने वालों को भूली प्रदेश भाजपा शीर्षक से यह खबर छापी थी। जिसमें बताया गया कि दिल्ली में पार्टी को स्थापित करने वाले जनसंघ से लेकर भाजपा तक यात्रा करने वाले नेताओं को ही भूला दिया गया है। नई वेबसाइट में केंद्रीय नेतृत्व तो याद रहा लेकिन प्रदेश नेतृत्व को तस्वीरों में भी जगह नहीं मिली।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा है कि आम आदमी पार्टी का दिल्ली डॉयलॉग एक ताजा ईवेंट की तरह है। दिल्ली वालों ने पिछले 3 साल से ऐसे अनेक ईवेंट देखे हैं। 49 दिनों के मुख्यमंत्री के जनता दरबार ईवेंट को भी दिल्ली वालों ने देखा है। जिसमें आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पिछले दरवाजे से भाग गए थे।

उपाध्याय ने कहा है अरविंद केजरीवाल जन भावनाओं को भुनाने की कला के माहिर हैं। अन्ना के आंदोलन से राजनीति बिसात बिछाने वाले केजरीवाल निर्भया के मुद्दे पर युवाओं के जनाक्रोश से राजनीतिक लाभ निकालने का भी काम किया। मौकापरस्त राजनीति में केजरीवाल माहिर हो गए है।

अब वह हर विषय को राजनीतिक चश्में से देखते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली का युवा अब पूरी तरह जागरूक है। युवा अब गुमराह नहीं होंगे। आज का युवा नरेंद्र मोदी में आर्थिक प्रगति देख रहा है। उनकी अंतरराष्ट्रीय नीति और उससे उत्पन्न होने वाले रोजगार की संभावनाओं को समझता है।

You must be logged in to post a comment Login