दिल्ली, झारखंड और जम्मू-कश्मीर में बजेगा मोदी का डंका!

दिल्ली, झारखंड और जम्मू-कश्मीर में बजेगा मोदी का डंका!

                                                                  narendra modi 111

चुनाव की दहलीज़ पर खड़े झारखंड, जम्मू-कश्मीर और दिल्ली के चुनावी सर्वे बीजेपी के लिए राहत की खबर लेकर आए हैं.  सी-वोटर और इंडिया टीवी के ताज़ा सर्वे के मुताबिक इन राज्यों में भी मोदी का डंका बजेगा. सर्वे के मुताबिक जहां दिल्ली में बीजेपी अपने दम पर सरकार बना लेगी, वहीं झारखंड में बहुमत से दूर, लेकिन सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर सकती है.

 सर्वे के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में भी बीजेपी ज़बरदस्त कामयाबी हासिल कर सकती है. यहां त्रिशंकु विधानसभा के आसार हैं और बीजेपी दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर सकती है.

दिल्ली

 सी-वोटर और इंडिया टीवी सर्वे के मुताबिक दिल्ली में मोदी का जादू सिर  चढकर बोल रहा है. यहां बीजेपी अपने दम पर बहुमत हासिल कर लेगी. बीजेपी को बहुमत से एक सीट ज्यादा यानी 37 सीटें मिलने का अनुमान है. बीजेपी को दिल्ली की 44 फीसद जनता वोट देगी.

 आम आदमी पार्टी के लिए परेशानी की बात ये है कि उसकी सीटें घटकर 26 पर पहुंच सकती है. उसे दिल्ली की 37 फीसद जनता वोट देने के मूड में है.

 कांग्रेस की सीटें भी घटने के आसार हैं. उसे महज़ 6 सीटों पर ही संतोष करना पडेगा. कांग्रेस को महज़ 11 फीसद वोट मिलने का अनुमान है.

 आपको बता दें कि दिल्ली के बीते विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 32, आप को 28, कांग्रेस को 8 और अन्य के खाते में 2 सीटें गई थीं. दिल्ली में विधानसभा की 70 सीटें हैं.

केजरीवाल पिछड़े

 जब दिल्ली की जनता से पूछा गया है कि यहां सबसे लोकप्रिय नेता कौन है तो मोदी के सामने केजरीवाल खासे पिछड़ गए. जहां 57 फीसद जनता ने मोदी को दिल्ली का सबसे लोकप्रिय नेता बताया तो महज़ 34 फीसद ने ही केजरीवाल को इस उपाधि से नवाज़ा.

 झारखंड

 सी-वोटर और इंडिया टीवी के सर्वे के मुताबिक झारखंड में भी मोदी का मैजिक चलेगा, लेकिन ऐसा नहीं कि बीजेपी को बहुमत दिला सके.

सर्वे के मुताबिक झारखंड में त्रिशंकु विधानसभा के आसार हैं और बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरेगी. बीजेपी 32 फीसद वोटों के साथ 29-35 सीटों पर अपना कब्ज़ा जमा सकती है. सत्ताधारी झारखंड मुक्ति मोर्चा का जाना तय है और वो 19 फीसद वोटों के साथ 17-23 सीटों पर जीत दर्ज कर सकती है. कांग्रेस की हालत यहां भी तरस खाने वाली है. उसकी झोली में 7-13 सीटें जा सकती हैं. उसे महज़ 13 फीसद जनता अपना वोट देना चाहती है. बाबु लाल मारंडी की जेवीएम 12 फीसद वोट के साथ 6-12 सीटें जीतने का अनुमान हैं. अन्य के खाते में 7-13 सीटें जा सकती हैं.

आपको बता दें कि 81 सीटों वाली झारखंड विधानसभा में इस वक़्त सत्ताधारी जेएमएम की 18,कांग्रेस की 13 ,बीजेपी की 18, जेवीएम की 11, आरजेडी की 5, एजेएसयू की 6, जेडीयू की 2 सीटें हैं. अन्य के खाते में 8 सीटें हैं.

 

 सी-वोटर और इंडिया टीवी के सर्वे के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में भी मोदी अपनी पैठ जमा सकते हैं और यहां बीजेपी जबरदस्त जीत हासिल कर सकती है. नेशनल कॉन्फ्रेंस, कांग्रेस और पीडीपी के इस गढ़ में बीजेपी दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर सकती है. हालांकि, वोट प्रतिशत के मामले में उसे सबसे ज्यादा 34 फीसद वोट मिलेंगे.

सर्वे के मुताबिक पीडीपी जम्मू-कश्मीर में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर सकती है और वो 25 फीसद वोटों के साथ 27-33 सीटों पर अपना परचम लहरा सकती है. बीजेपी 34 फीसद वोट के साथ 23-29 सीटों पर जीत दर्ज कर सकती है.

सत्ताधारी नेश्नल कॉन्फ्रेंस की हालत खस्ता है. उसे सबसे कम 11 फीसद वोट मिलने के आसार हैं और ये पार्टी 10-16 सीटों पर सिमट जाएगी. कांग्रेस के लिए यहां भी नाउम्मीदी जैसी स्थिति है. कांग्रेस 15 फीसद वोटों के साथ 6-12 सीटें पर ही जीत का जश्न मना पाएगी.

You must be logged in to post a comment Login