जसोदाबेन की RTI के चलते हटाए गए एसपीजी चीफ?

जसोदाबेन की RTI के चलते हटाए गए एसपीजी चीफ?

Modi's wife votes

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सार्क सम्मेलन में हिस्सा लेने जाने के दौरान ही अपने विशेष विमान में एसपीजी के महानिदेशक के. दुर्गा प्रसाद को हटाने के आदेश वाली फाइल पर साइन किए। पीएम की पत्नी जसोदाबेन के आरटीआई दाखिल कर सुरक्षा संबंधी जानकारी मांगने के 48 घंटों के भीतर ही एसपीजी महानिदेशक को हटाए जाने का फैसला लिया गया।
प्रसाद 1981 बैच के आंध्र प्रदेश कैडर के अधिकारी हैं और वह 2011 से स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) के प्रमुख का कार्यभार संभाले हुए थे। चौंकाने वाली बात यह है कि जब उन्हें पद से हटाया गया तब वह काठमांडू में सार्क सम्मेलन में हिस्सा लेने जा रहे प्रधानमंत्री के साथ ही उनके विशेष विमान में सवार थे।
प्रसाद का कार्यकाल दो नवंबर को ही खत्म होना था, हालांकि वह इन दिनों सर्विस एक्सटेंशन के चलते इस जिम्मेदारी को संभाल रहे थे। प्रसाद को सरकार के फैसले की जानकारी भी मीडिया से ही लगी जब कार्मिक मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उन्हें हटाए जाने की घोषणा की। कार्मिक मंत्रालय ने कहा, ‘ जब तक एसपीजी प्रमुख की पोस्ट के लिए अगली नियुक्ति नहीं हो जाती, तब सीनियर मोस्ट अधिकारी ही इस जिम्मेदारी को संभालेंगे।’ प्रसाद को उनकी अगली पोस्टिंग के बारे में भी नहीं बताया गया है। प्रसाद के करीबी सूत्रों का कहना है कि जसोदाबेन के आरटीआई दाखिल करने में प्रसाद की भूमिका नहीं है। वहीं, बीजेपी सूत्रों का कहना है कि जसोदाबेन की सेक्युरिटी डिटेल देने की अनुमति देने वाले प्रसाद ही हैं। दरअसल, इस साल मई के आखिर में एसपीजी की टीम ने गुजरात का दौरा किया था और प्रधानमंत्री और उनके परिवार (जसोदाबेन समेत) की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया था। पीएम की पत्नी होने के नाते जसोदाबेन को भी एसपीजी सुरक्षा दी जानी थी लेकिन इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर फैसला किया गया कि उन्हें स्टेट पुलिस की सुरक्षा दी जाए। जसोदाबेन की सुरक्षा में वाहन समेत चार गार्ड्स बिना हथियार के और एक आर्म्ड गार्ड्स तैनात किए गया। जसोदाबेन की सुरक्षा व्यस्था की रिपोर्ट प्रसाद को ही दी जा रही थी। लेकिन सुरक्षा संबंधी चिंताओं के चलते जसोदाबेन की आरटीआई ने सियासी तूफान खड़ा कर दिया।

You must be logged in to post a comment Login