जन धन योजना का प्रधानमंत्री आज करेंगे शुभारंभ

जन धन योजना का प्रधानमंत्री आज करेंगे शुभारंभ

एक करोड़ बैंक खाते खोलने की महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री जन धन योजना का शुभारंभ गुरुवार को देश भर में 60 हजार विशेष शिविरों के साथ होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी औपचारिक रूप से राजधानी में इसका शुभारंभ करेंगे। इसके साथ ही, राज्यों की राजधानियों व केंद्र शासित प्रदेशों के अन्य प्रमुख शहरों व सभी जिला मुख्यालयों में इस योजना के शुभारंभ समारोह आयोजित होंगे।

इस महायोजना की शुरुआत के मौके पर सरकारी बैंकों की शाखाएं उसी दिन ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर शिविरों का आयोजन करेंगी। अनुमान लगाया जा रहा है कि उस दिन तकरीबन एक करोड़ खाते खोले जाएंगे। नए खाताधारकों से आवश्यक सूचनाएं हासिल करने के लिए शुरुआती शिविरों का आयोजन पहले ही किया जा चुका है।

इस योजना के आगाज के मौके पर देशभर में प्रमुख स्थलों पर होने वाले समारोहों में केंद्रीय मंत्रियों और राज्यों के मुख्यमंत्रियों के अलावा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी शिरकत करेंगे।

प्रधानमंत्री ने इस योजना संबंधी अपनी स्वतंत्रता दिवस घोषणा का जिक्र करते हुए सभी बैंक अधिकारियों को तकरीबन 7.25 लाख ईमेल भेजे थे। यह योजना वित्तीय समावेश पर एक राष्ट्रीय मिशन है। इसका उद्देश्य देश में सभी परिवारों को बैंकिंग सुविधाएं मुहैया कराना और हर परिवार का कम से कम एक बैंक खाता खोलना है। इसके तहत एक लाख रुपये के दुर्घटना बीमा का भी प्रावधान है। इस योजना के तहत कम से कम 7.5 करोड़ परिवारों को कवर किए जाने का अनुमान है।

प्रधानमंत्री जन धन योजना सब का साथ सब का विकास की अवधारणा का अहम भाग है। एक बैंक खाता खुल जाने के बाद हर परिवार को बैंकिंग और कर्ज की सुविधाएं सुलभ हो जाएंगी। इससे उन्हें साहूकारों के चंगुल से निकलने, आपात जरूरतों के चलते पैदा होने वाले वित्तीय संकटों से खुद को दूर रखने व तरह-तरह के वित्तीय उत्पादों से लाभान्वित होने का मौका मिलेगा। पहले कदम के तहत हर खाताधारक को रुपे डेबिट कार्ड और दुर्घटना बीमा कवर दिया जाएगा। आगे चलकर उन्हें बीमा और पेंशन उत्पादों के दायरे में लाया जाएगा।

योजना की मुख्य बातें :

-यह मिशन दो चरणों में लागू होगा। पहला चरण 15 अगस्त, 2014 से 14 अगस्त, 2015 तक

-सभी परिवारों को बैंक शाखा या बिजनेस करेस्पॉन्डेंट (बीसी) के जरिये बैंकिंग की मिलेगी सुविधा

-सभी परिवारों को एक लाख रुपये का दुर्घटना बीमा कवर, रुपे डेबिट कार्ड के साथ बेसिक बैंक खाता

-किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) को रुपे किसान कार्ड के रूप में जारी करना योजना के प्रस्ताव में शामिल

-दूसरा चरण, 15 अगस्त, 2015 से 14 अगस्त, 2018 तक होगा

-लोगों को माइक्रो-बीमा उपलब्ध कराना,

बीसी के माध्यम से स्वावलंबन जैसी पेंशन योजनाएं शुरू करना।

modi 1

 

You must be logged in to post a comment Login