गरीबों के इलाज करने में कोताही बरतने वाले डॉक्टरों के हाथ काट दिए जाएंगे: बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी

गरीबों के इलाज करने में कोताही बरतने वाले डॉक्टरों के हाथ काट दिए जाएंगे: बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी

download

बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि अगर डॉक्टर गरीबों के इलाज करने में कोताही बरते या जीवन खिलवाड़ करते हुए मिलेंगे तो उसके हाथ काट दिए जाएंगे।मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी प्रदेश के पूर्वी चम्पारण जिले के पकड़ी दयाल मे 70 बिस्तरों वाले सब-डिविजनल अस्पताल का उद्घाटन करने के बाद मांझी लोगों को संबोधित करते हुए यह बयान दिया। माझी ने कहा, जो लोग गरीबों के जीवन के साथ खेलते हुए मिलेंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। जीतन राम माझी उनके हाथ काट देगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबों के कल्याण हेतु काम करने के लिए वह कोई भी परिणाम भुगतने को तैयार हैं।साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा, लोगों से कहा कि वे फर्जी डॉक्टरों के पास जाने से बचें और नजदीकी सरकारी अस्पताल में जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा, यदि डॉक्टर मौजूद नहीं है, दवाईयां उपलब्ध नहीं हैं और परीक्षणों का इंतजाम नहीं है तो जिलाधिकारी से शिकायत करें। उन्होंने कहा, यदि जिलाधिकारी भी शिकायत पर कार्रवाई नहीं करता है तो एक पोस्टकार्ड से मुझे सूचना दें  कार्रवाई जरूर की जाएगी।डॉक्टरों के हाथ काटने की मांझी की टिप्पणी की विपक्ष के नेताओं ने तीखी आलोचना की है। भारतीय जनता पार्टी के सांसद गिरिराज सिंह ने टिप्पणी को क्रूर और संविधान के विरूद्ध बताया। नवादा से सांसद सिंह ने कहा, मुख्यमंत्री जैसे शीर्ष संवैधानिक पद पर बैठा व्यक्ति कानून को अपने हाथ में लेने की बात कर रहा है।

You must be logged in to post a comment Login