औंधे मुंह गिरे सोना और चांदी

औंधे मुंह गिरे सोना और चांदी

31_10_2014-31golds

शेयर बाजार के उलट शुक्रवार को सोना व चांदी के भाव भरभरा गए। अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेज गिरावट के बाद यहां भी कीमती धातुओं में जोरदार बिकवाली हुई। नतीजतन स्थानीय सराफा बाजार में इस दिन पीली धातु 600 रुपये लुढ़ककर सत्ताईस हजार से नीचे आ गई। यह 26 हजार 500 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुई। बीते दिन भी सोना 400 रुपये टूटा था। इसी तरह चांदी 1700 रुपये का गोता लगाकर 36 हजार 150 रुपये प्रति किलो पर आ गई। गुरुवार को इस सफेद धातु ने 550 रुपये गंवाए थे। चांदी सिक्का 4000 रुपये की चपत खाकर 62000 रुपये प्रति सैकड़ा हो गया।

क्यों आई तेज गिरावट

अमेरिकी अर्थव्यवस्था में सुधार और डॉलर की मजबूती ने सोने-चांदी की निवेश मांग को कमजोर कर दिया है। दलाल स्ट्रीट में ताबड़तोड़ तेजी ने निवेशकों को अपना धन सराफा से निकालकर शेयरों में लगाने को प्रेरित किया। इनकी कीमतों पर दबाव बना दिया। इससे सिंगापुर के अंतरराष्ट्रीय सराफा बाजार में सोना 2.6 फीसद गिरकर 1167.49 डॉलर प्रति औंस बोला गया। यह जुलाई, 2010 के बाद से इसका सबसे निचला स्तर है। चांदी तीन फीसद फिसल 16 डॉलर प्रति औंस हो गई। एक औंस में करीब 28 ग्राम होते हैं।

शेष सराफा का हाल

विदेश में गिरावट का असर घरेलू बाजार में पड़ा, जहां त्योहारी सीजन गुजरने के बाद पहले से ही मांग नहीं निकल रही है। इस दिन यहां सोना आभूषण के भाव 600 रुपये कमजोर होकर 26 हजार 300 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहे। आठ ग्राम वाली गिन्नी 200 रुपये टूटकर 23 हजार 900 रुपये हो गई। साप्ताहिक डिलीवरी वाली चांदी 1980 रुपये की भारी हानि के साथ 35 हजार 580 रुपये प्रति किलो बोली गई।

You must be logged in to post a comment Login