एग्जिट पोल: महाराष्ट्र और हरियाणा में भाजपा सरकार

एग्जिट पोल: महाराष्ट्र और हरियाणा में भाजपा सरकार
4677_122 (1)
लोकसभा चुनाव में बहुमत लाने के बाद भाजपा महाराष्ट्र और हरियाणा में भी बड़ी जीत हासिल करती दिख रही है। बुधवार को जारी एग्जिट पोल के नतीजे तो यही बता रहे हैं। महाराष्ट्र में 15 साल और हरियाणा में 10 साल से सरकार में रही कांग्रेस तीसरे नंबर पर खिसकती दिख रही है। हालांकि नतीजे 19 अक्टूबर को सुबह 8 बजे से आना शुरु होंगे।
 सर्वे में भाजपा आगे, नतीजे 19 को
राज्य विधानसभा के लिए पोलिंग के दौरान विभिन्न टीवी चैनलों और एजेंसियों के सर्वे में भाजपा को सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरते दिखाया गया है। किसी सर्वे में भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिल रहा है, तो किसी में वह बहुमत के बिल्कुल करीब दिख रही है। सभी सर्वे में इनेलो दूसरे और कांग्रेस सबसे कमजोर तीसरे स्थान पर दिख रही है। इस बार किस पार्टी की सरकार होगी, 19 तारीख को नतीजे आने पर होगा। सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में जहां कांग्रेस हैट्रिक लगाने की फिराक में है। भाजपा पहली बार सत्ता हथियाने का सपना संजो रही है। 10 साल से मुख्य विपक्षी दल इनेलो को भी राजगद्दी मिलने की पूरी-पूरी उम्मीद है। हरियाणा जनहित कांग्रेस, हरियाणा जनचेतना पार्टी, हरियाणा लोकहित पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी सत्ता में भागीदारी के लिए जूझ रही है।
 47 साल बाद रिकॉर्ड 76% मतदान
छिटपुट हिंसक घटनाओं के बीच प्रदेश के वोटरों ने विधानसभा चुनाव में 47 साल के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। प्रदेश में औसत 76 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। अंतिम आंकड़े मिलने तक मतदान प्रतिशत और भी बढ़ सकता है। इससे पहले हरियाणा बनने के बाद हुए प्रथम चुनाव में 1967 में सर्वाधिक 72.65 फीसदी वोटिंग हुई थी। वैसे पड़ोसी राज्य पंजाब में दो साल पहले हुए विधानसभा चुनाव में 78.25 फीसदी मतदान हुआ था। सुबह 7 बजे से ही मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं की कतारें लग गई थीं। हालांकि, दोपहर तक मतदान की रफ्तार कुछ धीमी रही। लेकिन अपरान्ह 3 बजे बाद इसमें तेजी आई। राज्य निर्वाचन आयोग को रात साढ़े आठ बजे तक मिली जानकारी के मुताबिक वोटिंग का आंकड़ा 76 तक पहुंच चुका था।
 महाराष्ट्र में 64 प्रतिशत मतदान
महाराष्ट्र में भी बुधवार को विधानसभा के लिए वोटिंग हुई। 2009 की तुलना में यहां 4.5 फीसदी ज्यादा वोट डाले गए। 2009 में 59.5 फीसदी वोटिंग हुई थी। यह इस बार 64 फीसदी तक पहुंच गई। महाराष्ट्र में 288 सीटें हैं। बुधवार को ही ओडिशा कीर कंधमाल लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए वोट पड़े। यहां 62.71 फीसदी वोटिंग हुई। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत वोट नहीं डाला। वे नागपुर के वोटर हैं। लेकिन लखनऊ में संघ के केंद्रीय कार्यकारी मंडल की तीन दिनी बैठक में भाग ले रहे हैं।
 सरकार बनाने के अपने-अपने दावे
महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘हमें 160 सीटें मिलने की उम्मीद है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा, ‘महाराष्ट्र में हमारी ही सरकार बनेगी।’ शिवसेना के नेता भी राज्य में अपनी सरकार बनने का दावा कर रहे हैं। वहीं एनसीपी नेता तारिक अनवर ने कहा, ‘चुनाव बाद उनकी पार्टी भाजपा से गठबंधन नहीं करेगी।’ इसी तरह हरियाणा में आईएनएलडी   और भाजपा और कांग्रेस के नेताओं ने अपनी-अपनी सरकार बनने के दावे किए हैं। भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ने कहा, ‘पार्टी को हरियाणा में सरकार बनाने के लिए किसी दल की मदद नहीं लेनी होगी।’

You must be logged in to post a comment Login