आनंद ने कार्लसन को ड्रॉ पर रोका, अंक बराबर :विश्व शतरंज चैंपियनशिप

आनंद ने कार्लसन को ड्रॉ पर रोका, अंक बराबर :विश्व शतरंज चैंपियनशिप

anand

सोच्चि (रूस): विश्व चैंपियन मैग्नस कार्लसन और भारत के विश्वनाथन आनंद के बीच बुधवार को विश्व शतरंज चैंपियनशिप की चौथी बाजी 47 चालों के बाद ड्रॉ रही। चौथे दौर की समाप्ति के बाद दोनों खिलाडिय़ों के दो-दो अंक हैं। तीसरी बाजी जीतकर आनंद ने कार्लसन से बराबरी की थी।

पहले दो बाजियों के मुकाबले पांच बार के पूर्व विश्व चैंपियन आनंद इस बार पूरी तरह अलग खिलाड़ी दिखाई दिए। आनंद ने काले मोहरों से खेलते हुए चौथी बाजी में काफी आक्रामक शुरुआत की और अच्छी स्थिति बना ली थी, लेकिन इसके बाद उन्होंने रक्षात्मक रुख अपना लिया। चौथी बाजी में भारतीय खिलाड़ी ने बर्लिन के बजाय सिसिलियन डिफेंस का सहारा लिया। बर्लिन डिफेंस से खेलने पर उन्हें दूसरी बाजी में करारी मात झेलनी पड़ी थी, जिसमें वह काले मोहरों से खेल रहे थे।

कार्लसन ने अपने अंदाज में खेल दिखाया और बाजी के मध्य में आनंद पर दबाव बनाने की कोशिश की। हालांकि आनंद दबाव में नहीं आए और अपने किले की बखूबी रक्षा करते रहे। कार्लसन ने भी आनंद के किले में सेंध लगाने की हर संभव कोशिश की, लेकिन चीजें उनके पक्ष में होती नहीं दिखाई दीं। कार्लसन ने 40वीं चाल के बाद काफी समय लिया, लेकिन अंतत: दोनों खिलाड़ी ड्रॉ के लिए राजी हो गए।

गुरुवार को विश्राम का दिन है। शुक्रवार को आनंद पांचवें दौर में सफेद मोहरों से शुरुआत करेंगे। इस ड्रॉ से आनंद को पांचवीं बाजी से पहले मनोवैज्ञानिक बढ़त हासिल हो गयी है। बारह बाजियों की चैंपियनशिप में अभी आठ दौर खेले जाने बाकी हैं। कार्लसन इस परिणाम से खुश नजर नहीं आए। उन्होंने कहा, ‘मैं सोच रहा था कि मैं शानदार खेल रहा हूं। लेकिन यह ड्रॉ रहा, चलो यह भी ठीक है।’ आनंद ने कहा, ‘यह एक मुश्किल मुकाबला था। सारा दारोमदार केंद्र में मौजूद कमजोर प्यादे पर था। हालांकि बाजी के अंत में कुछ चालों से मुझे लाभ मिला।’

You must be logged in to post a comment Login