असम: उग्रवादी हमले में 52 की मौत, राजनाथ्‍ा आज करेंगे दौरा

असम: उग्रवादी हमले में 52 की मौत, राजनाथ्‍ा आज करेंगे दौरा

download

असम के कोकराझाड़ व शोणितपुर जिले में अलग-अलग जगहों पर उग्रवादी गुट नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (एनडीएफबी) के संगबिजीत गुट ने 52 आदिवासियों की हत्या कर दी। उग्रवादियों ने मंगलवार को आदिवासी गांवों पर अंधाधुंध फायरिंग की और लोगों को मौत के घाट उतार दिया।इस बीच दिल्ली में असम भवन के सामने कई संगठन के लोगों ने इस हमले के विरोध में बुधवार की सुबह प्रदर्शन किया। इसके साथ ही केंद्रीय कैबिनेट की बैठक से पहले सभी मृतकों को श्रद्धांजली दी गई। आज केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह घटनास्थल का दौरा करेंगे।शोणितपुर जिले में 40 लोगों की मौत हुई है, जबकि कोकराझाड़ में 12 लोग मारे गए। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। मुख्यमंत्री तरुण गोगोई ने सुरक्षाबलों को उग्रवादियों के खिलाफ कार्रवाई तेज करने को कहा है। साथ ही अतिरिक्त अर्द्धसैनिक बलों को पीडि़त जिलों में भेजा गया है। घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है, जबकि गृहमंत्री ने मदद का भरोसा दिया। शोणितपुर में कर्फ्यू लगाया गया है।हिंसा की सूचना के बाद राजनाथ सिंह ने असम मुख्यमंत्री गोगोई से बात की और घटना पर दुख जताया। कहा, हिंसा पीडि़त जिलों की स्थिति पर गृह मंत्रालय नजर रख रहा है। इससे पहले मंगलवार शाम उग्रवादियों ने उल्टापानी वनांचल के एक आदिवासी गांव पर हमला बोला और गोलीबारी की। इसमें चार लोग मौके पर ही मारे गए, जबकि कई घायल हुए।कोकराझाड़ के शेरफानुगड़ी के पाखुरीगुड़ी गांव में हुए हमले में भी दो महिलाएं और एक बच्ची की मौत हो गई। इसके अलावा भी कई जगह आदिवासियों पर हमले किए और उन्हें मौत के घाट उतारा, जबकि दर्जनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शोणितपुर के उपायुक्त ललित गोगोई ने कहा कि जिले के चार थाना क्षेत्रों में कफ्र्यू लगा दिया गया है। पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) एसएन सिंह ने बताया कि गत रविवार को भूटान सीमा के निकट चिरांग जिले में दो उग्रवादियों के मारे जाने से एनडीएफबी (एस) बौखला गया है।

You must be logged in to post a comment Login