अश्‍वेतों के साथ अच्‍छा व्‍यवहार नहीं हो रहा : ओबामा

अश्‍वेतों के साथ अच्‍छा व्‍यवहार नहीं हो रहा : ओबामा
2014_12$largeimg202_Dec_2014_112410893
अमेरिका में अश्‍वेतों पर हो रहे अत्‍याचार को देखते  हुए राष्‍ट्रपति बराक ओबामा ने माना कि देश में अश्‍वेतों के साथ अच्‍छा  व्‍यवहार नहीं हो  रहा है. ओबामा ने इसे  एक बडी समस्‍या  मानते  हुए इस दिशा में देश की पुलिस व्‍यवस्‍था को चुस्‍त-दुरुस्‍त करने के लिए कदम उठाया है.
 व्हाइट हाउस में ओबामा ने टिप्पणी में कहा मुझे लगता है कि फर्गूसन ने एक समस्या को बेनकाब किया है. यह समस्‍या ना तो सेंट लुइस के लिए अनोखी है और ना ही हमारे समय के लिए अनोखी है. इसके कारण कई पुलिस विभागों और अश्वेत समुदायों के बीच अविश्वास उबल रहा है.’
 ओबामा ने कहा एक ऐसे देश में जहां कानून के तहत हमारी बुनियादी सिद्धांतों में से महत्वपूर्ण सिद्धांत समता एवं समानता है. कई लोग खास तौर पर अश्वेत समुदाय के युवक यह महसूस नहीं करते हैं कि उनके साथ उचित व्यवहार हो रहा है.’
 उन्होंने कहा जब अमेरिकी परिवार का एक हिस्सा महसूस करता है कि उसके साथ उचित व्यवहार नहीं हो रहा है, तो यह हम सभी के लिए एक समस्या है. यह सिर्फ कुछ लोगों की समस्या नहीं है. यह किसी खास समुदाय या आबादी के किसी खास हिस्से की समस्या नहीं है. इसका मतलब है कि हम एक देश के रुप में उतना मजबूत नहीं है जितना हम हो सकते है.’
 ओबामा ने अपनी टिप्पणी में एक कार्यबल की घोषणा की है जो 90 दिन के अंदर समुदायों के साथ बेहतरीन व्यवहार पर अपनी सिफारिश पेश करेगा.

You must be logged in to post a comment Login