RBI ने जारी की गाइडलाइंस, जल्द ही एक जगह जमा हो सकेंगे सभी उपभोक्ता बिल

RBI ने जारी की गाइडलाइंस, जल्द ही एक जगह जमा हो सकेंगे सभी उपभोक्ता बिल
RBI_900449f
मुंबई। वह दिन दूर नहीं जब आप अपने हर तरह के बिल एक ही स्थान पर जमा कर सकेंगे। जल्दी ही आप अपने घर के पास खुले पेमेंट सेंटर पर शिक्षा, बीमा, यातायात, दूरसंचार सेवा, तकनीकी एवं मीडिया सेवाओं से जुड़े सारे बिल जमा कर पाएंगे। दरअसल भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने केंद्रीकृत बिल पेमेंट सिस्टम की दिशा में एक और कदम आगे बढ़ा दिया है।
आरबीआई ने भारत बिल पेमेंट सिस्टम (बीबीपीएस) को लागू करने से संबंधित दिशा-निर्देशों का मसौदा जारी कर दिया है। इस पर अपनी राय 5 सितंबर 2014 तक भेजी जा सकती है।
जनरल इंटरबैंक रेकरिंग ऑर्डर (जीआईआरओ) आधारित पेमेंट सिस्टम लागू करने की व्यावहारिकता का अध्ययन करने के लिए आरबीआई ने जी पद्मनाभन की अध्यक्षता में एक समिति बनाई थी। समिति के अनुमान के अनुसार, देश के 20 प्रमुख शहरों में हर साल 3080 करोड़ बिल जारी होते हैं, जिनका पेमेंट एमाउंट 6223 अरब रुपए होता है।
क्यों पड़ी नई व्यवस्था की जरूरत
समिति का यह मानना है कि देश में बिल पेमेंट की जो मौजूदा व्यवस्था है, वह उपभोक्ता-केंद्रित न हो कर संस्था-केंद्रित है। इसकी वजह से आज देश में बिल पेमेंट से संबंधित विभिन्न विकल्प और विभिन्न संस्थाएं उपलब्ध होने के बावजूद ग्राहक सुचारु रूप से यह काम नहीं कर पाते।
समिति का मानना है कि हालांकि मौजूदा व्यवस्था सुरक्षित है, लेकिन यह ग्राहकों की जरूरतों को ठीक तरीके से पूरा नहीं करती। इसकी वजह यह है कि बिल पेमेंट की प्रक्रियाओं के बीच सामंजस्य का अभाव है। समिति के अनुसार, भले ही आज पेमेंट के विभिन्न तरीके उपलब्ध हैं, लेकिन कैश और चेक पेमेंट अभी भी सबसे अधिक प्रचलित हैं। देश में ग्राहकों की एक बड़ी संख्या के पास अभी भी इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट सुविधाओं तक पहुंच नहीं है।

You must be logged in to post a comment Login