रांची समेत कई जिलों में वाहनों का परिचालन ठप, कई कार्यकर्ता हिरासत में

रांची समेत कई जिलों में वाहनों का परिचालन ठप, कई कार्यकर्ता हिरासत में

झाविमो विधायक दल के नेता प्रदीप यादव की रिहाई, सीएनटी में संशोधन वापस लेने और अडानी को जमीन देने के विरोध में झाविमो (झारखंड विकास मोर्चा) ने राज्यव्यापी चक्का जाम किया है। कांग्रेस, झामुमो, राजद, जदयू वामदल सहित कई सामाजिक संगठनों ने समर्थन देने का एलान किया है। रांची समेत कई जिलों में वाहनों का परिचालन ठप है। वहीं, पुलिस ने कई चक्का जाम समर्थकों को हिरासत में लिया है।

  • सीएनटी एक्ट में हुए संशोधन के विरोध में झारखंड विकास मोर्चा की ओर से गुरुवार को राज्य भर में चक्का जाम का एलान किया है।
  • इसे देखते हुए सुबह से ही जेवीएम कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए। राजधानी रांची में भी बरियातू रोड, अरगोड़ा, डिबडीह, सहित अन्य मार्गों पर जेवीएम कार्यकर्ताओं ने वाहन रोक दिया।
  • दूसरे जिले में चक्का जाम का व्यापक असर देखा जा रहा है। राजधानी रांची में ऑटो चालकों ने भी चक्का जाम को नैतिक समर्थन दिया है।
  • इस वजह से इक्का-दुक्का ही ऑटो सड़कों पर देखे गए। लोगों को आने-जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
  • सबसे अधिक असर रांची से जमशेदपुर, धनबाद, बोकारो, सिमडेगा, पलामू, गढ़वा, हजारीबाग, कोडरमा जाने वाले लोगों पर पड़ा। क्योंकि उन स्थानों पर जाने वाली एक भी बसें नहीं चली।
  • आईटीआई बस स्टैंड से करीब 100 और कांटा टोली बस स्टैंड से करीब 200 बसें विभिन्न स्थानों के लिए जाती है। लेकिन वह स्टैंड में ही खड़ी रह गई।
  • चक्का जाम को देखते हुए पुलिस की ओर से तैयारियां की गई हैं। हर चौराहों पर पुलिस को तैनात किया गया है।

अन्य खबरों के लिए पढ़ें :

National | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login