आइएएस मनीष रंजन अपनी किताबों से हैं चर्चा में

आइएएस मनीष रंजन अपनी किताबों से हैं चर्चा में

इंसान योग्यता से नहीं बल्कि समाज में अपने योगदान से बड़ा और चर्चित होता है। 2002 बैच के आइएएस अधिकारी और माध्यमिक शिक्षा निदेशक मनीष रंजन पर यह बात सटीक बैठती है। मनीष रंजन राज्य के कई जिलों में उपायुक्त रहे। उद्योग निदेशक समेत विभिन्न पदों से होते हुए निदेशक माध्यमिक शिक्षा बने। लेकिन किताब लिखने के जुनून ने उन्हें ज्यादा चर्चित बना दिया है। झारखंड पर उनकी किताब झारखंड सामान्य ज्ञान सफलता के झंडे गाड़ रही है।

झारखंड लोक सेवा आयोग, झारखंड कर्मचारी चयन आयोग सहित प्रदेश की सभी प्रतियोगिता परीक्षाओं को केंद्र में रखकर लिखी गई उनकी यह किताब पहली बार तीन साल पहले प्रकाशित हुई थी। उस वक्त जेपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा आयोजित होने वाली थी। प्रभात प्रकाशन से प्रकाशित यह पुस्तक परीक्षार्थियों के बीच हॉट केक बनी हुई है। किताब की मांग इतनी ज्यादा है कि उसके पांच संस्करण छप चुके हैं।

किताब की खासियत यह है कि इसमें झारखंड से संबंधित सभी पहलुओं के बारे में बारीकी से बताया गया है। सरहुल से लेकर करमा पर्व तक का किताब में विस्तार से उल्लेख है। झारखंड गठन का इतिहास सहित सरकारों के गिरने और बनने के बारे में भी जानकारी दी गई है। किताब की महत्ता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यूपीएससी की कई परीक्षाओं में यह परीक्षार्थियों की पहली पंसद है। मोमेंटम झारखंड और पूंजी निवेश जैसे राज्य के अहम विषयों को इसमें बेहद सरल अंदाज में बताया गया है। वे अब संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की परीक्षा को ध्यान में रखकर किताब लिखने की योजना बना रहे हैं।

स्कूली पाठ्यक्रम पर भी किताब:
माध्यमिक शिक्षा निदेशक मनीष रंजन ने राज्य के स्कूली बच्चों के लिए कक्षा एक से लेकर आठ तक की किताब भी लिखी है। बच्चों को झारखंड के परिवेश से रूबरू कराता उनके द्वारा डिजायन और उपलब्ध कराई गई सामाग्री के आधार पर किताबें कक्षा एक से आठ तक के पाठ्यक्रम में शामिल है।
कुछ कर गुजरने की चाहत है। रोजाना सुबह के तीन घंटे इस काम के लिए निकालता हूं। यूपीएससी या जेपीएससी में सफलता के लिए बहुत ज्यादा पढऩे की नहीं बल्कि जो पढ़ा है उसे संवार कर रखने की आवश्यकता है- मनीष रंजन, निदेशक, माध्यमिक शिक्षा।

अन्य खबरों के लिए पढ़ें :

National | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login