नीला प्रकाश मस्तिष्क के त्वरित निर्णय लेने में मददगार

नीला प्रकाश मस्तिष्क के त्वरित निर्णय लेने में मददगार

नीला प्रकाश मस्तिष्क के त्वरित निर्णय लेने में मददगारछोटी अवधि के लिए नीले रंग की रोशनी से संपर्क आपको कठिन निर्णय लेने में मदद कर सकता है। नीले रंग के प्रकाश में 40 मिनट तक रहने के बाद आप कठिन निर्णय तीव्रता के साथ ले सकते हैं। यह जानकारी एक नए अध्ययन में सामने आई है। युनिवर्सिटी ऑफ एरिजोना से इस अध्ययन की मुख्य लेखिका एना अल्कोजी ने कहा, “पिछले अध्ययनों में केवल प्रकाश में रहने की अवधि के दौरान उसके प्रभाव पर ध्यान केंद्रित किया गया था, लेकिन हमारा अध्ययन बताता है कि नीले रंग के प्रकाश के आवरण के लाभकारी प्रभाव 40 मिनट बाद भी रहते हैं।”

निष्कर्षो के मुताबिक, आधा घंटे के लिए नीले रंग की रोशनी में एक छोटी अवधि का संपर्क अधिक महत्वपूर्ण प्रतिक्रिया देने के समय में औसत दर्जे का परिवर्तन करने के लिए पर्याप्त है।

यह सुधार सीधे तौर पर प्रीफ्रंटल कॉर्टेक्स की सक्रियता में औसत दर्जे के परिवर्तन के साथ जुड़े हैं। यह मस्तिष्क का वह हिस्सा है, जो जटिल संज्ञानात्मक व्यवहार और निर्णय लेने की क्षमता में उपयोग होता है।

नीलापन युक्त सफेद रोशनी कई व्यावसायिक क्षेत्रों जैसे पायलट काकपिट, ऑपरेशन कक्ष और सैन्य कार्यो में काफी इस्तेमाल की जाती है, जहां त्वरित निर्णय लेना महत्वपूर्ण है।

यह शोध ‘स्लीप’ पत्रिका के ऑनलाइन संस्करण में प्रकाशित हुआ है।

अन्य खबरों के लिए पढ़ें : National | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets |

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

You must be logged in to post a comment Login