बच्चा चोरी की अफवाह से 7 की मौत के बाद बिगड़ा माहौल, थाने में तोड़फोड़, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बच्चा चोरी की अफवाह से 7 की मौत के बाद बिगड़ा माहौल, थाने में तोड़फोड़, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बच्चा चोरी की अफवाह में सात लोगों की मौत के बाद जमशेदपुर के मानगो में शनिवार को लोगों ने जमकर हंगामा किया। उपद्रव कर रहे लोगों ने धतकीडीह टीओपी (पुलिस की टेंपरोरी आउट पोस्ट) में जमकर तोड़फोड़ की। पुलिस पर पथराव कर दिया। एक विशेष मोहल्ले में घरों पर पथराव किया गया। इसके बाद पुलिस से लोग भिड़ गए। पुलिस ने भी उपद्रवियों पर लाठीचार्ज कर दिया। आंसू गैस के गोले दागे गए। रैफ के जवान तैनात किए गए…

घटनास्थल पर भारी संख्या में रैफ के जवानों को तैनात किया गया है। डिप्टी कमिश्नर ने कहा है कि प्रशासन उपद्रवियों को चिह्नित कर रहा है। उपद्रवियों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की। मामले को सांप्रदायिक रंग देना चाहा, लेकिन पुलिस-प्रशासन लगातार सक्रिय है। इलाके में फिलहाल तनाव कायम है। बड़ी संख्या में पुलिस जवानों को तैनात किया गया है। एसएसपी अनूप टी मैथ्यू से लेकर वरीय पुलिस प्रशासनिक अधिकारी मौके पर कैंप कर रहे हैं।

सात की मौत के बाद भड़का मामला:

जमशेदपुर और सरायकेला जिले में गुरुवार की रात सात लोगों को भीड़ ने बच्चा चोर के संदेह में पीट-पीट कर मार डाला। इसके बाद दोनों जगह तनाव कायम हो गया। जमशेदपुर-सरायकेला के इलाकों में सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। जमशेदपुर के मानगो में बच्चा चोर की अफवाह के कारण की गयी हत्या को लेकर लोगों में आक्रोश है था, जो शुक्रवार को भड़क गया। उपद्रव से पहले गांधी मैदान में एक आमसभा हुई।

इसके बाद उपद्रवियों ने टायर जलाकर प्रदर्शन किया। आगजनी की। पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई। पत्थरबाजी हुई। पुलिस को भी उपद्रवियों ने खदेड़ दिया। पत्थरबाजी में कुछ पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं। पुलिस- प्रशासन लगातार स्थितियों को नियंत्रित करने में जुटा हुआ है। सीनियर ऑफिसर्स ने किसी तरह की अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है।

कल एसएसपी की गाड़ी पर हुआ था हमला:

  • बताते चलें कि शुक्रवार को भी जमशेदपुर के जुगसलाई में हजारों लोगों ने प्रदर्शन किया था। नागाडीह से आने वाले ग्रामीणों पर जगदीशपुर रोड के पास आक्रोशित लोगों ने हमला कर दिया था।
  • इसमें दर्जनभर मजदूर घायल हो गए। गुस्साई भीड़ ने वहां से गुजर रहे एसएसपी अनूप टी मैथ्यू के वाहन पर भी पथराव कर दिया।
  • एसएसपी ने रेलवे स्कूल के पास गाड़ी खड़ी कर दी और हेलमेट पहनकर जवानों के साथ लाल बिल्डिंग पहुंचे। उन्हें लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा।
  • उग्र भीड़ जवानों से भिड़ गई। टाइगर मोबाइल के एक जवान का हाथ टूट गया। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखाई और लोगों को खदेड़ना शुरू किया।
  • इस दौरान भगदड़ मच गई। जुगसलाई फाटक गोलचक्कर के पास भी दिनभर हुड़दंग मचा। यहां भी दुकानें बंद रही। टाटा स्टील में ठेका पर नौकरी करने जा रहे मजदूर की पिटाई की गई। साइकिल जला दी गई।

भीड़ ने ऐसे की थी 7 की हत्या:

  • बच्चा चोरी की अफवाह में ग्रामीणों ने गुरुवार को सात और लोगों की जान ले ली थी।
  • सरायकेला जिले के राजनगर के पास शोभापुर, बोंगा डांडू पहाड़ और पढ़नामसाई में 14 गांव के लोगों ने घाटशिला निवासी मो. नईम, हल्दीपोखर के रहने वाले मो. सज्जाद उर्फ सज्जू, मो. सिराज और मो अलीम को पीट-पीटकर मार डाला था। सभी पशु व्यापारी थे।
  • जमशेदपुर के बागबेड़ा थाना के नागाडीह में गुरुवार रात ही लोगों ने दो भाइयों सहित तीन युवकों काे पीट-पीटकर मार डाला था।
  • उन्हें बचाने गई दादी रामसखी देवी (60 साल) की भी पिटाई कर दी गई। महिला का टीएमएच में इलाज चल रहा है।
  • मृतकों में जुगसलाई निवासी विकास वर्मा गौतम वर्मा (सगे भाई) और गाढ़ाबासा का रहने वाला गंगेश कुमार गुप्ता शामिल हैं।

अन्य खबरों के लिए पढ़ें :

National | International | Bollywood | Bihar | Jharkhand | Bhagalpur | Business | Gadgets

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें eBiharJharkhand App

You must be logged in to post a comment Login