20 साल बाद नीतीश और लालू एक मंच पर

20 साल बाद नीतीश और लालू एक मंच पर

lalu with nitish

बिहार की राजनीति में एक-दुसरे के धुर विरोधी रहे आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव और जेडीयू नेता नीतीश कुमार सोमवार को 20 साल से भी ज्‍यादा वक्‍त के बाद एक साथ एक मंच पर नजर आए। हाजीपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करने के लिए दोनों साथ आए। बिहार में 21 अगस्‍त को 10 सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के बीच गठबंधन हुआ है। तीनों पार्टियां मिलकर भाजपा के खिलाफ लड़ रही हैं।

रैली को संबोधित करेंगे लालू-नीतीश
लालू और नीतीश हाजीपुर में चुनावी रैली को संबोधित करने के बाद शाम चार बजे मोहिउद्दीननगर में रैली को संबोधित करेंगे। दोनों नेता सड़क मार्ग से हाजीपुर पहुंचे हैं। 17 अगस्त को दोनों नेता फिर मंच पर साथ होंगे। वे नरकटियागंज, छपरा और मोहनिया में महागठबंधन के उम्मीदवारों को जिताने का आग्रह करेंगे। उस दिन लालू और नीतीश साथ-साथ हेलिकॉप्‍टर से जाएंगे।

आरजेडी के स्टार प्रचारकों की लिस्‍ट जारी
उपचुनाव के लिए आरजेडी ने स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। इसमें लालू प्रसाद, राबड़ी देवी, सतीश प्रसाद सिंह, रघुवंश प्रसाद सिंह, रामचंद्र पूर्वे, अब्दुल बारी सिद्दिकी, प्रेमचंद्र गुप्ता, जगदानंद सिंह, प्रभुनाथ सिंह, रघुनाथ झा, मो. तस्लीमुद्दीन, प्रो. रामदेव भंडारी, मंगलीलाल मंडल, जय प्रकाश नारायण यादव, मीसा भारती, तेज प्रताप यादव, तेजस्वी प्रसाद यादव, भगवान सिंह कुशवाहा, अशोक सिंह, रामजी मांझी, राजनीति प्रसाद, मुंद्रिका सिंह यादव, तनवीर हसन आदि शामिल हैं।

 विरोधियों ने बोला हमला

कभी नीतीश के करीबी रहे और जेडीयू से पूर्व राज्‍यसभा सांसद शिवानंद तिवारी ने लालू-नीतीश के साथ आने पर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि लालू और नीतीश अब अकेले-अकेले अपनी रक्षा कर सकने में असमर्थ हैं। इसीलिए, उन्होंने एक-दूसरे की रक्षा का संकल्प लिया है। तिवारी ने कहा, ‘नीतीश-लालू के साथ आने से मुझे किसी लाभ की उम्मीद नहीं दिख रही। यह चुनाव के नतीजों से पता चल जाएगा। दोनों अपनी लोकप्रियता और राजनीतिक ताकत के शिखर तक पहुंच चुके हैं। अब इनका मिलन प्रमाणित कर रहा है कि इनसे शिखर छूट चुका है और ये ढलान पर हैं। सबसे बुरी हालत तो नीतीश कुमार की है। लालू के हर अंदाज को नापसंद करने वाले नीतीश ने बहुत मजबूरी में उनके साथ संयुक्त सभा का कार्यक्रम बनाया है।’

 उधर, बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशिल कुमार मोदी ने नीतीश कुमार पर हमला बोला और कहा कि बिहार इन दिनों नीतीश को डबल रोल में देख रहा है। मोदी ने कहा, ‘एक ओर तो नीतीश फेसबुक पर सिद्धांत की बातें करते हैं और दूसरी ओर लालू प्रसादकी लाठी में तेल पिलाते नजर रहे हैं।’

इन सीटों पर उपचुनाव
बिहार में 21 अगस्त को 10 सीटों पर उपचुनाव होगा। ये सीटें हैं- भागलपुर, बांका, छपरा, हाजीपुर, मोहनियां, नरकटियागंज, जाले, परबत्ता, मोइद्दीनगर और राजनगर। गठबंधन के मुताबिक, आरजेडी और जेडीयू चार-चार सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं तो कांग्रेस दो सीटों पर।

साभार: दैनिक भास्कर

You must be logged in to post a comment Login