32 साल पहले भारतीय-अमेरिकी ने किया था ई मेल का आविष्कार

32 साल पहले भारतीय-अमेरिकी ने किया था ई मेल का आविष्कार

email~30~08~2014~1409400404_storyimage

ई मेल शनिवार को 32 साल का हो गया। लेकिन बहुत ही कम लोगों को यह पता होगा कि तेजी से संदेश पहुंचाने की इस प्रणाली का अविष्कार भारतीय अमेरिकी वीए शिवा अययदुरई ने उस समय किया जब वह केवल 14 साल के थे। वर्ष 1978 में अययदुरई ने कंप्यूटर प्रोग्राम तैयार किया जिसे ईमेल कहा गया। इसमें इनबॉक्स, आउटबॉक्स, फोल्डर्स, मेमो, अटैचमेंटस आदि सभी कुछ था। आज ये फीचर हर ईमेल सिस्टम के हिस्से हैं।

अमेरिकी सरकार ने 30 अगस्त 1982 को अययदुरई को आधिकारिक रूप से ई मेल की खोज करने वाले के रूप में मान्यता दी और 1978 की उनकी खोज के लिये पहला अमेरिकी कापीराइट दिया। उस समय सॉफ्टवेयर खोज की सुरक्षा के लिये कापीराइट एकमात्र तरीका था।

हफ्फिंगटन पोस्ट के अनुसार एर्पानेट, एमआईटी या सेना जैसे बड़े संस्थानों ने ई मेल की खोज नहीं की। इस प्रकार के संस्थानों का मानना था कि इस प्रकार की प्रणाली तैयार करना मुश्किल है। अययदुरई का जन्म मुंबई में एक तमिल परिवार में हुआ था। सात वर्ष की आयु में वह अपने परिवार के साथ अमेरिका चले गये। 14 वर्ष की आयु में उन्होंने कंप्यूटर प्रोग्रामिंग के अध्ययन के लिये न्यूयार्क विश्वविद्यालय के कोरैंट इंस्टीटयूट ऑफ मैथेमैटिकल साइसेंज में विशेष समर कार्यक्रम में हिस्सा लिया। बाद में स्नातक के लिये न्यूजर्सी सिथत लिविंगस्टन हाई स्कूल गये। हाई स्कूल में पढ़ाई करने के साथ उन्होंने न्यू जर्सी में यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिसीन एंड डेनटिस्ट्री में रिसर्च फेलो के रूप में काम भी किया।

Related Posts:

You must be logged in to post a comment Login