पुलिस बहाली में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण: हेमंत

पुलिस बहाली में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण: हेमंत

insa

चाईबासा, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि लोगों की छंटनी करने की धमकी से सेल की खदानें नहीं खुलेंगी। श्री सोरेन यहां बिहारी क्लब मैदान में झामुमो की सभा को सम्बोधित कर रहे थे। उन्हाेंने कहा कि खदान बंद रहे या खुली रहे, यहां के ग्रामीणों को कोई फर्क नहीं पड़ता है। अभी तो लौह खदान बंद हुआ है। कोयला खदान बंद हो जायेगा तो क्या होगा। चंद नेता और दलाल खदान बंद होने पर शोर मचा रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा द्वारा बंद खदानों को खुलवाने के लिए किये जा रही पदयात्रा आंदोलन पर किसी का नाम नहीं लेते हुए कहा कि दलाल किस्म के नेता खदान बंद होने पर सड़क पर उतर गये हैं।
उन्होंने कहा कि पुलिस बहाली में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण और फॉरेस्टर बहाली में प्रखंड के स्थानीय ग्रामीणों को बहाल किया जायेगा। इसके कानूनी पहलु पर विशेषज्ञों से सलाह कर एक दो दिन में वे इसकी घोषणा कर देंगे। श्री सोरेन ने कहा कि स्वास्थ्य लाभ के लिए दी जानी वाली राशि डेढ लाख रुपये से बढ़ाकर ढ़ाई लाख रुपये कर दी गयी है। श्री सोरेन ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में झामुमो को लांघना किसी के वश में नहीं होगा। कुछ दल के नेता बार – बार संथाल परगना की ओर जा रहे हैं। संथाल परगना में विरोधी दलों को लोहे के चने चबवा दिया जायेगा।
सभा को मंत्री चम्पई सोरेन, विधायक दीपक बिरुवा, पूर्व विधायक निरल पुरती ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर झाविमो के चाईबासा विधानसभा क्षेत्र प्रभारी सोना देवगम, पूर्व विधायक बहादुर उरांव, पूर्व विधायक हिबर गुड़िया, मानकी – मुण्डा संघ के अध्यक्ष अन्तु हेम्ब्रम, झारखंड दिशोम पार्टी के जिलाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण बोदरा, शशि समड आदि नेताओं ने झामुमो में शामिल होने की घोषणा की।

You must be logged in to post a comment Login