चलो हो जाए मुकाबला’। 103 साल के धावक ने उसेन बोल्ट को दी चुनौती

चलो हो जाए मुकाबला’। 103 साल के धावक ने उसेन बोल्ट को दी चुनौती

download (6)

जापान के 103 साल के बुजुर्ग धावक हाइदकिची मियाजाकी ने दुनिया के सबसे तेज धावक उसेन बोल्ट को अपने साथ दौड़ लगाने की चुनौती दी है। उन्होंने बोल्ट से कहा कि ‘चलो हो जाए मुकाबला’। मियाजाकी के नाम 2010 में 29.83 सेकंड में100 मीटर की बुजुर्गो की दौड़ पूरी करने का विश्व रिकॉर्ड है।

92 साल की उम्र से दौड़ शुरू
हाइदकिची मियाजाकी ने बुजुर्ग खेल दिवस से प्रेरणा लेते हुए 92 साल की उम्र में दौड़ना शुरू किया। उनका अगला लक्ष्य 105 से 109 साल की आयुवर्ग का रिकॉर्ड अपने नाम करना है।

जापान मास्टर्स एथलेटिक्स
दुनियाभर में विभिन्न संस्करणों में होने वाली इस प्रतियोगिता में 40 साल से अधिक उम्र के लोग हिस्सा लेते हैं। इसमें दौड़ के अलावा तैराकी, शॉटपुट, लांग जंप आदि प्रतिस्पर्धाएं भी होती हैं।

प्रोफाइल

नाम हाइदकिची मियाजाकी
जन्म 1910 जापान
उम्र  103 वर्ष
वजन 42 किलोग्राम
लंबाई 05 फुट

ताकत का राज
मियाजाकी के अनुसार, उनकी ताकत का राज उनकी 73 वर्षीय बेटी कियू द्वारा बनाया गया संतरे का जैम है। उन्हें लगता है कि इसे खाते ही उनके अंदर ताकत आ जाती है और वह हवा से बातें करने लगते हैं। इसके अलावा वह अपने हर निवाले को 30 बार चबाते हैं।

बोल्ट के साथ दौड़ना
मियाजाकी ने बताया कि वह बोल्ट के साथ दौड़ना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि बुजुर्गों का बोल्ट होने के नाते वह जवानों के बोल्ट के साथ कसकर रेस लगाना चाहते हैं। इस सपने को पूरा करने के लिए वह कई सालों तक जिंदा रहने वाले हैं। मियाजाकी ने सलाह दी कि अन्य धावकों खासकर बोल्ट को उनकी तरह सेहतमंद रहना चाहिए।

You must be logged in to post a comment Login